विदेशी पर्यटक को दिल्ली में घूमने और रुकने के लिए करना होगा प्रेरित

 

पर्यटक दिल्ली को एक ट्रांजिट प्वाइंट की तरह इस्तेमाल कर रहे।

विदेशी पर्यटकों के आगमन के मामले में दिल्ली अभी देश में चौथे स्थान पर है।कुल विदेशी पर्यटकों की संख्या का मात्र 9.5 प्रतिशत ही हैं। ऐसे उपाय किए जाने चाहिए कि पर्यटक दिल्ली को एक ट्रांजिट प्वाइंट की तरह इस्तेमाल करने के बजाय यहां समय बिताएं।

नई दिल्ली, संवाददाता। दिल्ली में प्रति व्यक्ति आय में पिछले साल के मुकाबले करीब 17 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई है, जो एक अच्छा संकेत है। दिल्ली विधानसभा में प्रस्तुत किए गए वर्ष 2021-22 के आर्थिक सर्वेक्षण में यह सामने आया है। वर्ष 2020-21 में जहां दिल्ली की प्रति व्यक्ति आय तीन लाख, 44 हजार 136 रुपये थी, वहीं 2021-22 में यह 16.81 प्रतिशत बढ़कर चार लाख एक हजार 982 रुपये हो गई। यह प्रति व्यक्ति आय देश की प्रति व्यक्ति आय से लगभग तीन गुना अधिक है, जबकि अन्य राज्यों व केंद्र शासित प्रदेशों की तुलना में यह गोवा और सिक्किम के बाद तीसरे स्थान पर है।

कोरोना काल में भी घूमता रहा विकास का पहिया

यही नहीं, विगत एक वर्ष में सकल राज्य घरेलू उत्पाद (जीएसडीपी) में भी 17.65 प्रतिशत की बढ़ोतरी दर्ज की गई है, जो दर्शाता है कि कोरोना काल में भी दिल्ली में विकास का पहिया घूमता रहा और इसके सकारात्मक परिणाम मिले। पिछले करीब छह वर्षो में जीएसडीपी की यह वृद्धि 50 प्रतिशत की है, जो उल्लेखनीय है।

लगातार बढ़ रहा वन क्षेत्र

राजधानी में पर्यावरण की दृष्टि से यह एक राहत की बात है कि वर्ष 1997 से लगातार वन क्षेत्र और वृक्ष आच्छादित क्षेत्र में वृद्धि हो रही है। दिल्ली के कुल भौगोलिक क्षेत्र में वन क्षेत्र का हिस्सा बढ़कर 23.06 प्रतिशत हो गया है। यही नहीं, सात प्रमुख बड़े शहरों में दिल्ली का वन क्षेत्र सबसे अधिक 194.24 वर्ग किमी है।

वन क्षेत्र बढ़ाने में और काम करने की जरूरत

दिल्ली की यह स्थिति दूसरे बड़े शहरों से बेहतर अवश्य है, लेकिन वन क्षेत्र बढ़ाने के लिए लगातार काम किए जाने की आवश्यकता है। विदेशी पर्यटकों के आगमन के मामले में दिल्ली अभी देश में चौथे स्थान पर है और यहां आने वाले विदेशी पर्यटक देश में आने वाले कुल विदेशी पर्यटकों की संख्या का मात्र 9.5 प्रतिशत ही हैं। ऐसे उपाय किए जाने चाहिए कि पर्यटक दिल्ली को एक ट्रांजिट प्वाइंट की तरह इस्तेमाल करने के बजाय यहां समय बिताएं।