कनाट प्लेस में बनाया जाएगा स्मार्ट ग्रीन शौचालय, जानिए इसकी खासियत

 

परिषद के उपाध्यक्ष सतीश उपाध्याय की फाइल फोटो।

कनाट प्लेस के हनुमान मंदिर में टोटल ग्रीन मिशन के तहत नई दिल्ली नगर पालिका परिषद (एनडीएमसी) स्मार्ट ग्रीन शौचालय का निर्माण करेगी। परिषद के उपाध्यक्ष सतीश उपाध्याय ने कहा कि मंदिर में हजारों श्रद्धालु आते हैं ऐसे में उनकी सुविधाओं के साथ मंदिर वाटिका क्षेत्र में सौंदर्यीकरण करना है।

नई दिल्ली,  संवाददाता। कनाट प्लेस के हनुमान मंदिर में टोटल ग्रीन मिशन के तहत नई दिल्ली नगर पालिका परिषद (एनडीएमसी) स्मार्ट ग्रीन शौचालय का निर्माण करेगी। परिषद के उपाध्यक्ष सतीश उपाध्याय ने कहा कि मंदिर में हजारों श्रद्धालु आते हैं, ऐसे में उनकी सुविधाओं के साथ मंदिर वाटिका क्षेत्र में सौंदर्यीकरण करना है।

एक जगह पर तीन सुविधा

उन्होंने बताया कि यहां पानी का उपयोग करने के बाद रिसाइकिल किया जाएगा। वहीं, इसमें महिलाओं के लिए विशेष रूप से सैनिटरी वेंडिंग मशीन भी होगी। यही नहीं, नवजात शिशुओं की देखभाल के लिए फीडिंग चैंबर और डायपर चेंजिंग की सुविधा भी उपलब्ध होगी।

बनेगा सीवर ट्रीटमेंट प्लांट

परिषद के उपाध्यक्ष सतीश उपाध्याय ने कहा कि इसमें महिलाओं के लिए चार डब्ल्यूसी सीट, पुरुषों के लिए पांच डब्ल्यूसी सीट, दिव्यांग लोगों के लिए एक डब्ल्यूसी सीट, ट्रांसजेंडर के लिए एक डब्ल्यूसी सीट और 10 यूरिनल सुविधाओं के साथ 15 केएलडी की क्षमता वाले ‘सीवर ट्रीटमेंट प्लांट’ होगा।

वार्ड में बदलवा रहे स्ट्रीट लाइटें: संजय

वहीं, सैदुलाजाब वार्ड के निगम पार्षद संजय ठाकुर ने बताया कि पूरे वार्ड में नई स्ट्रीट लाइटें लगाई जा रही हैं। उन्होंने बताया कि लोगों की सुविधा के लिए पुरानी लाइटों को बदलने का कार्य किया जा रहा है। इसी क्रम में वार्ड में अलग-अलग स्थानों पर नागरिकों के आग्रह पर लाइट लगाई जा रही है। संजय ठाकुर ने बताया कि वार्ड के लोगों की सुविधा के लिए स्ट्रीट लाइटें लगवाने, नालियों को बनवाने और स्वच्छता के लिए नए डस्टबिन रखवाने का काम किया जा रहा है। इसके लिए निगम के अधिकारी व कर्मचारी दिन रात मेहनत कर रहे हैं। फ्रीडम फाइटर्स एनक्लेव, मैदानगढ़ी गांव, सैदुलाजाब गांव आदि में एक साथ काम चल रहा है। इसके अलावा जिन इलाकों से लोग मांग करते हैं, वहां पर भी लाइटें लगवाई जा रही हैं। इस दौरान अशोक श्रीवास्तव, अतर सिंह डागर, रीना पाल आदि मौजूद रहे।