बाइडन ने पुतिन को दी चेतावनी, कहा- यूक्रेन में रासायनिक हथियारों का किया इस्तेमाल तो देंगे जवाब

 

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन और रूसी राष्ट्रपति पुतिन की फाइल फोटो

Russia Ukraine War अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने रूस को कड़ी चेतावनी दी है। अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा कि अगर रूस यूक्रेन में रासायनिक हथियारों का इस्तेमाल करता है तो इस चीज का हम करारा जवाब देंगे।

ब्रसेल्स, एएनाइ। रूस और यूक्रेन के बीच जारी युद्ध को एक महीना हो गया है। रूसी सैनिकों ने यूक्रेन के कई शहरों को पूरी तरह से बर्बाद कर दिया है। इस बीच, बेल्जियम की राजधानी ब्रसेल्स में अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने रूस को कड़ी चेतावनी दी है। अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा कि अगर रूस यूक्रेन में रासायनिक हथियारों का इस्तेमाल करता है तो इस चीज का हम करारा जवाब देंगे।

रासायनिक हथियारों के इस्तेमाल की बात ध्यान भटकाने की एक रणनीति: रूस

इसके जवाब में क्रेमलिन ने शुक्रवार को कहा कि रूस द्वारा यूक्रेन में रासायनिक हथियारों का सहारा लेने की अमेरिका की बात वाशिंगटन के लिए अजीब सवालों से ध्यान हटाने की एक रणनीति है। क्रेमलिन के प्रवक्ता दिमित्री पेसकोव ने संवाददाताओं से कहा कि रूसी सेना राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन को प्रस्ताव देगी कि कैसे नाटो के पूर्वी हिस्से को मजबूत करने के जवाब में रूस को अपने बचाव को मजबूत करना चाहिए। पेसकोव ने कहा कि रूस यूक्रेनी कस्बों और मारियुपोल जैसे शहरों का पुनर्निर्माण करेगा या नहीं, इस पर कोई आधिकारिक स्थिति नहीं है।

जी-20 से बाहर होने को लेकर रूस ने कहा- हमारे लिए कुछ खतरनाक नहीं

इसके साथ ही क्रेमलिन ने शुक्रवार को कहा कि अगर अमेरिका और उसके सहयोगी देश रूस को जी-20 की प्रमुख अर्थव्यवस्थाओं से बाहर निकालने में सफल हो जाते हैं तो हमारे लिए कुछ भी खतरनाक नहीं होगा, क्योंकि जी-20 के कई सदस्य वैसे भी मास्को के साथ आर्थिक युद्ध में शामिल हैं।

क्रेमलिन के प्रवक्ता दिमित्री पेसकोव ने अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन की टिप्पणी पर कहा कि वह रूस को जी-20 से बाहर किए जाने के पक्ष में थे, जब उसने यूक्रेन में हजारों सैनिकों को भेजा था।

रूस के संभावित निष्कासन के बारे में एक सवाल का जवाब देते हुए पेसकोव ने संवाददाताओं से कहा कि जी-20 प्रारूप महत्वपूर्ण है, लेकिन मौजूदा परिस्थितियों में जब अधिकांश प्रतिभागी हमारे साथ आर्थिक युद्ध की स्थिति में हैं, तो कुछ भी खतरनाक नहीं होगा।