पोटका के हजारों राशन कार्ड धारियों को नहीं मिला फरवरी एवं मार्च महीने का खाद्यान्न

 

खाधान्न वितरण नहीं करने पर प्रखंड आपूर्ति पदाधिकारी के माध्यम से उपायुक्त को ज्ञापन सौंपा गया।

जन वितरण प्रणाली के तहत संचालित दुकानों से खाद्यान्‍न नहीं मिलने से आक्रोशित ग्रामीणों ने शंका जतायी है कि विभागीय मिलीभगत से खाधान्न का कालाबाजारी की जा रही है। इसी तरह लॉकडाउन के दरम्यान सितंबर-2021 माह का खाधान्न 45 हजार कार्डधारियों को नहीं मिला।

पोटका। पोटका प्रखंड के 34 पंचायतों में माह फरवरी व मार्च 2022 का खाद्यान्‍न नहीं मिला है। इससे राशन कार्ड धारकों में आक्रोश है। जन वितरण प्रणाली के तहत संचालित दुकानों के दुकानदारों द्वारा खाधान्न वितरण नहीं करने पर प्रखंड आपूर्ति पदाधिकारी के माध्यम से उपायुक्त को ज्ञापन सौंपा गया। ज्ञापन के माध्‍यम से मामले की जांच कराने और कार्रवाई की मांग की गई।

ग्रामीणों का कहना है कि ज़न वितरण प्रणाली दुकानदारों द्वारा माह फरवरी व मार्च 2022 का सस्ते दर पर खाद्य सुरक्षा गारंटी योजना एवं प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना का खाधान (चावल + गेहूं) का वितरण अब तक नहीं किया गया है। सस्ते दर पर दो माह का लगातार खाद्यान्न नहीं मिलने से हम गरीबों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है । ग्रामीण रोज अपने संबंधित जन वितरण प्रणाली के दुकान जाते हैं, खाद्यान्‍न की मांग करते हैं, लेकिन दुकानदार खाद्यान्न नहीं आया है कहकर लोंगो को खाली हाथ लौटा देते हैं।भागीय मिलीभगत का लगाया आरोप

जन वितरण प्रणाली के तहत संचालित दुकानों से खाद्यान्‍न नहीं मिलने से आक्रोशित ग्रामीणों ने शंका जतायी है कि विभागीय मिलीभगत से खाधान्न का कालाबाजारी की जा रही है। इसी तरह लॉकडाउन के दरम्यान सितंबर-2021 माह का खाधान्न 45 हजार कार्डधारियों को नहीं मिला। ग्रामीणों का यह भी कहना है कि आखिर पोटका प्रखण्ड में ही खाद्यान्न नियमित क्यों नहीं वितरण हो पा रहा है। सरायकेला जिले के पड़ोस के प्रखंड राजनगर में नियमित रूप से खाधान (पीएमजीबाई एवं एनएफ एमए) का वितरण किया जा रहा है। पोटका प्रखण्ड में नियमित रूप से खाद्यान्न नहीं मिलने के लिए दोषी या जिम्मेवार कौन है। क्या विभागीय लापरवाही से खाद्यान का कालाबाजारी सुनियोजित ढंग से किया जा रहा है। जिसमें मुख्य रूप से युवा समाजसेवी सुरज मंडल, राजू गोप, आयुष महाकुड़, सोमेन मंडल, प्रणाय कुमार, श्यामल प्रधान,रंजन कुमार रविन्द्र नाथ मुंडा, एवं भाजपा आसनबनी मंडल के अध्यक्ष हलधर दास शामिल हुए।