युद्ध के बीच रूस के खिलाफ लामबंद हुआ नाटो, जो बाइडन ने कहा- जारी रखेंगे यूक्रेन का समर्थन

 

अमेरिका ने यूक्रेन का साथ देने पर जताई प्रतिबद्धता (एएनआई)

ब्रसेल्स में नाटो नेताओं ने मुलाकात की है। रूस और यूक्रेन के बीच पिछले एक महीने से युद्ध लगातार जारी है। वार्ता में अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने साफ किया कि वो रूसी हमलों के खिलाफ यूक्रेन की मदद जारी रखेंगे। ताकि उनके आत्मरक्षा के अधिकारों को बल मिलता रहे।

ब्रसेल्स, एजेंसियां: बेल्जियम की राजधानी ब्रसेल्स में गुरूवार को नाटो नेताओं ने मुलाकात की है। रूस और यूक्रेन के बीच पिछले एक महीने से युद्ध लगातार जारी है। आज हुई वार्ता में अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने साफ किया है कि वो रूसी हमलों के खिलाफ यूक्रेन की मदद जारी रखेंगे। ताकि उनके आत्मरक्षा के अधिकारों को बल मिलता रहे।

बाइडन यूक्रेन में युद्ध की स्थिति को लेकर यूरोपीय नेताओं के साथ आपातकालीन वार्ता के लिए बुधवार को ब्रसेल्स पहुंचे थे। बताया जा रहा था कि वो वार्ता में रूस पर और अधिक प्रतिबंध लगाने के प्रस्ताव रख सकते हैं। बाइडन की यात्रा में ब्रसेल्स में नाटो और यूरोपीय नेताओं के साथ बातचीत और पोलिश राष्ट्रपति आंद्रेजेज डूडा के साथ परामर्श के लिए वारसा की यात्रा शामिल है।वार्ता के दौरान जी-7 देशों के नेताओं ने लेनदेन के लिए रूसी सेंट्रल बैंक द्वारा गोल्ड के इस्तेमाल पर रोक लगा दी है। अमेरिका ने रूस के खिलाफ नाटो देशों के साथ हुई वार्ता में नए प्रतिबंधों को लेकर घोषणा की है। इस बीच अमेरिकी अधिकारियों ने घोषणा की है कि अमेरिका यूक्रेन से विस्थापित हुए लाखों शरणार्थियों की हर संभव मदद करेगा। रूस के ओर से जारी सैन्य कार्रवाई के कारण 35 लाख से ज्यादा लोग विस्थापित हुए हैं। 

वहीं यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमिर जेलेंस्की ने दुनिया से रूस के युद्ध को रोकने की अपील की है। उन्होंने कहा कि हम सभी को रूस को रोकना होगा। दुनिया को ये युद्ध रोकना चाहिए। मैं उन सभी का आभारी हूं जो यूक्रेन के समर्थन में काम करते हैं। यूक्रेन की आजादी के समर्थन में काम करते हैं लेकिन युद्ध जारी है। यूक्रेन में नागरिकों के खिलाफ आतंक जारी है।