वाराणसी में काले झंडे दिखाने पर बिफरीं ममता, रोकवाई गाड़ी, कहा हार की खीझ

वाराणसी में चेतगंज में ममता बनर्जी का विरोध हुआ और काले झंडे दिखाए गए।

वाराणसी में ममता बनर्जी एयरपोर्ट से सीधे दशाश्वमेध घाट के लिए निकलीं। रास्ते में कुछ युवाओं ने दो स्थानों पर उन्हें काले झंडे दिखाए। काला झंडा दिखाए जाने पर ममता बिफर पड़ीं। गाड़ी रोकवाई और सड़क पर उतर गईं। कहा काला झंडा दिखाना है तो सामने आकर दिखाओ भाजपा वालों।

वाराणसी, संवाददाता। समाजवादी पार्टी के लिए प्रचार करने बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी बुधवार शाम बनारस पहुंचीं। लालबहादुर शास्त्री एयरपोर्ट पर उतरने के बाद ममता सीधे दशाश्वमेध घाट के लिए निकलीं। रास्ते में कुछ युवाओं ने दो स्थानों पर उन्हें काले झंडे दिखाए। चेतगंज में काला झंडा दिखाए जाने पर ममता बिफर पड़ीं। गाड़ी रोकवाई और सड़क पर उतर गईं। सामने आए समर्थकों को किनारे करते हुए कहा, काला झंडा दिखाना है तो सामने आकर दिखाओ भाजपा वालों। तुम हार रहे हो और यह काला झंडा नहीं यह डर है तुम्हारा। माइक लेकर उन्होंने उन्होंने जय यूपी और जय हिंद का नारा भी लगाया। गोदौलिया पर कुछ युवाओं ने काला झंडा दिखाया। पुलिस ने युवाओं को किनारे किया।

ममता के विरोध के बाद समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता गोदौलिया चौराहे पर भाजपा के खिलाफ प्रदर्शन करने लगे हैं। दोनों दलों के कार्यकर्ता आमने सामने आ गए। इसके बाद पुलिस बल बढ़ते हुए दोनों दल के कार्यकर्ताओं को मौके से हटाया गया।

बुधवार को पश्चिम बंगाल की मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी वाराणसी एयरपोर्ट से सीधे दशाश्वमेध घाट पहुंचीं तो गंगा मंदिर में शीश नवाया। इस दौरान ममता आरती स्थल के पास घाट की सीढ़ियों पर बैठ कर ही आरती देखी।

jagran

वाराणसी  पश्चिम बंगाल की मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी के दो दिवसीय चुनावी दौरे को देखते हुए सुरक्षा इंतजाम और कड़ी कर दी गई हैं। ममता का जिस तरह से शहर में दो जगहों पर विरोध हुआ उसे देखते हुए पुलिस की सक्रियता ओर ज्‍यादा बढ़ गई हैं। वहीं ममता बनर्जी के विरोध को देखते हुए गोदौलिया चौराहे पर समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता भी उतर आए हैं। आरती के बाद ममता छवनी स्थित रमाडा होटले में रूकेगी। इस वजज से होटल की सुरक्षा भी और ज्‍यादा बढ़ा दी गई हैं।