सिम्बायोसिस यूनिवर्सिटी के स्वर्ण जयंती समारोह में बोले मोदी-कोरोना वैक्सीनेशन से भारत ने दुनिया को दिखाया अपना सामर्थ्य

 


प्रधानमंत्री मोदी सिम्बायोसिस यूनिवर्सिटी के स्वर्ण जयंती समारोह को संबोधित करते हुए। (फोटो-एएनआइ)

PM Modi in Pune प्रधानमंत्री आज अपने पुणे दौरे पर कई परियोजनाओं का उद्घाटन करने वाले हैं। सबसे पहले पीएम ने पुणे नगर निगम परिसर में छत्रपति शिवाजी महाराज की प्रतिमा का अनावरण किया है इसके बाद उन्होंने मेट्रो का उद्घाटन किया।

पुणे, एएनआइ PM Modi in Pune। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी आज पुणे के एक दिवसीय दौरे पर हैं। पुणे में पीएम ने आज कई परियोजनाओं का उद्घाटन किया। इस दोरान पीएम पीएम ने यहां सिम्बायोसिस यूनिवर्सिटी के स्वर्ण जयंती समारोह के उद्घाटन समारोह को संबोधित भी किया। मोदी ने कहा कि पुणे में रहने वाले लोग अच्छी तरह जानते हैं कि कोरोना वैक्सीनेशन को लेकर भारत ने किस तरह पूरी दुनिया के सामने अपना सामर्थ्य दिखाया है। पीएम ने कहा कि लोग यूक्रेन संकट के समय भी देख रहे हैं कि कैसे आपरेशन गंगा चलाकर भारत अपने नागरिकों को युद्ध क्षेत्र से सुरक्षित बाहर निकाल रहा है।

पीएम ने आगे कहा कि सिम्बायोसिस ऐसा विश्वविद्यालय है जहां ‘वसुधैव कुटुम्बकम्’ पर अलग से एक कोर्स है। उन्होंने कहा कि ज्ञान का व्यापक प्रसार हो, ज्ञान पूरे विश्व को एक परिवार के रूप में जोड़ने का माध्यम बने, ये हमारी संस्कृति रही है और इसे आज भी जारी देख खुशी होती है।

बता दें कि इससे पहले पीएम ने पुणेवासियों को मेट्रो का तोहफा दिया। मेट्रो रेल परियोजना के उद्घाटन के वक्त उनके साथ राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी और भाजपा नेता देवेंद्र फडणवीस भी मौजूद रहे। पीएम ने यात्रा के समय मेट्रो में मौजूद बच्चों से बात भी की और सफर के बारे में पूछा। 

भारत अब दुनिया की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्थाओं में शामिल

समारोह में बोलते हुए पीएम ने कहा कि भारत अब दुनिया की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्थाओं में शामिल है। दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा स्टार्ट-अप इकोसिस्टम आज हमारे देश में है। पीएम ने आगे कहा कि मोबाइल मैन्युफैक्चरिंग में भी भारत दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा देश बनकर उभरा है। सात साल पहले भारत में सिर्फ 2 मोबाइल मैन्यूफैक्चरिंग कंपनियां थीं, आज 200 से ज्यादा मैन्यूफैक्चरिंग यूनिट्स यहां काम कर रही हैं।

पीएम ने सिम्बायोसिस आरोग्य धाम का शुभारंभ किया

jagran

पुणे पहुंचे प्रधानमंत्री मोदी ने सिम्बायोसिस आरोग्य धाम का शुभारंभ किया। प्रधानमंत्री ने कहा कि सिम्बायोसिस अपने स्वर्ण जयंती के मुकाम तक पहुंचा है और इस यात्रा में अनेक लोगों का योगदान होता है। उन्होंने कहा कि इस सफर में उन छात्रों का भी बड़ा योगदान है जिन्होंने यहां से पढ़कर सिम्बायोसिस के विजन को अपनाया और अपनी सफलता से सिम्बायोसिस को पहचान दी।

पुणे ने एजुकेशन और आइटी सेक्टर में बनाई मजबूत पहचान

एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए पीएम ने कहा कि पुणे ने एजुकेशन, रिसर्च एंड डेवलपमेंट, आईटी और ऑटोमोबिल के क्षेत्र में भी अपनी पहचान निरंतर मजबूत की है। मोदी ने कहा कि आधुनिक सुविधाएं पुणे के लोगों की जरूरत हैं और हमारी सरकार पुणेवासियों की इसी आवश्यकता को ध्यान में रखते हुए काम कर रही है।

100 ई-बसों का शुभारंभ, जल्द एक कार्ड से होगा पूरे शहर का सफर

प्रधानमंत्री मोदी ने इस बीच बनेर में निर्मित 100 ई-बसों और ई-बस डिपो का भी शुभारंभ किया। पीएम ने उद्घाटन समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि हमारी सरकार का प्रयास है कि हर शहर में ज्यादा से ज्यादा ग्रीन ट्रांसपोर्ट, इलेक्ट्रिक बसें, इलेक्ट्रिक कारें और इलेक्ट्रिक दोपहिया वाहन हों। प्रधानमंत्री ने कहा कि सरकार का फोकस है कि हर शहर में स्मार्ट मोबिलिटी हो जिसके लिए पब्लिक ट्रांसपोर्ट में एक ही कार्ड के इस्तेमाल को लाने का काम किया जा रहा है। बता दें कि इस कार्ड का फायदा यह होगा कि लोग इससे मेट्रो और बस दोनों में सफर कर सकेंगे।

2014 के बाद से मेट्रो का हुआ विस्तार, पुणे के लोगों की बढ़ेगी ईज आफ लिविंग

पीएन ने अपने संबोधन में कहा कि 2014 तक सिर्फ दिल्ली-NCR में ही मेट्रो का व्यापक विस्तार हुआ था। बाकि कुछ शहरों में ही मेट्रो का संचालन शुरू किया गया था। मोदी ने कहा कि आज देश के 2 दर्जन से अधिक शहरों में मेट्रो या तो आपरेशनल हो चुकी है या फिर जल्द चालू हो जाएगी। उन्होंने कहा कि ये मेट्रो पुणे में मोबिलिटी को आसान करेगी और प्रदूषण एवं जाम से राहत के साथ लोगों की ईज आफ लिविंग बढ़ाएगी।

मुला-मुथा नदी परियोजनाओं की रखी आधारशिला

पीएम ने इसके साथ ही मुला-मुथा नदी परियोजनाओं के कायाकल्प और प्रदूषण उन्मूलन की आधारशिला भी रखी। गौरतलब है कि 1,080 करोड़ रुपये से अधिक की इस परियोजना से नदी के 9 किमी के हिस्से में कायाकल्प किया जाएगा।

पीएम ने टीकट खरीद कर की मेट्रो की सवारी 

jagran

बता दें कि पुणे मेट्रो का उद्घाटन करने पहुंचे पीएम ने खुद मेट्रो का टिकट लेकर सवारी की। गौरतलब है पीएम ने गरवारे कॉलेज से आनंद नगर तक पुणे मेट्रो में यात्रा की है।

पीएमसी में छत्रपति शिवाजी महाराज की प्रतिमा का अनावरण

बता दें कि इससे पहले प्रधानमंत्री ने पुणे आते ही पुणे नगर निगम परिसर (पीएमसी) में छत्रपति शिवाजी महाराज की प्रतिमा का अनावरण किया था। इस प्रतिमा की खासियत यह है कि ये 1,850 किलोग्राम गनमेटल से बनी है और लगभग 9.5 फीट लंबी है।

पुणे मेट्रो पर खर्च हुए 11,400 करोड़, दो रूट पर दौड़ेगी रेल

प्रधानमंत्री कार्यालय से मिली जानकारी के अनुसार पुणे मेट्रो रेल परियोजना को कुल 11,400 करोड़ रुपये से अधिक की लागत से बनाया गया है। बता दें कि पुणे में पहले चरण के तहत पीसीएमसी से स्वारगेट और वनाज से रामवाड़ी दो रूट पर मेट्रो चलेगी। पीसीएमसी से स्वारगेट तक के रूट की लंबाई 11.4 किलोमीटर की है जिसमें 14 स्टेशन हैं। गौरतलब है कि पीसीएमसी से स्वारगेट रूट पर शिवाजीनगर से स्वारगेट तक 6 किलोमीटर का अंडरग्राउंड रूट है जिसमें 5 स्टेशन होंगे। वहीं दूसरा रूट वनाज से रामवाड़ी 15.7 किलोमीटर का है और पूरी तरह से एलिवेटेड है। इसमें कुल 16 स्टेशन होंगे। 

आर के लक्ष्मण आर्ट गैलरी का किया उद्घाटन

पुणे दौरे में पीएम बालेवाड़ी में निर्मित आर के लक्ष्मण आर्ट गैलरी (R K Laxman Art Gallery-Museum) का उद्घाटन भी किया। म्यूजियम का मुख्य आकर्षण मालगुडी गांव पर आधारित एक लघु माडल है जिसे आडियो-विजुअल प्रभावों के माध्यम से जीवंत बनाया जाएगा। कार्टूनिस्ट आर के लक्ष्मण द्वारा बनाए गए कार्टूनों को इस म्यूजियम में प्रदर्शित किया जाएगा।