अभिषेक बच्चन दसवीं पास, बंदियों को पढाएंगे टालस्टाय और रविंद्र नाथ टैगाेर

 

सेंट्रल जेल को उपहार में दी गई पुस्तकों के साथ अभिषेक बच्चन, यामी गौतम एवं जेल अधिकारी।

Abhishek Bachchan in Agra सेंट्रल जेल में फिल्म दसवीं की स्क्रीनिंग देखने के बाद बंदियों ने जमकर की तारीफ। जूनियर बच्चन यामी और निमरत ने जेल पुस्तकालय को उपहार में दीं 350 पुस्तकें। अभिषेक बोले फिल्म का उद्देश्य भी बंदियों को शिक्षा से जोड़ना है।

आगरा संवाददाता। सेंट्रल जेल में दसवीं पास करने के बाद अभिषेक बच्चन ने अब बंदियों को महात्मा गांधी, रवींद्र नाथ टैगोर,रूसी साहित्यकार लियो टालस्टाय, सरोजनी नायडू, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भारत के महान वैज्ञानिकों आदि की जिंदगी से रूबरू कराने की ठानी है। जूनियर बच्चन, यामी गौतम और निमरत कौर समेत फिल्म दसवीं की यूनिट की ओर से सेंट्रल जेल के बंदियों को 350 पुस्तकें उपहार में दी गई हैं। जिससे कि बंदी इन पुस्तकों से देश-दुनिया के महान शख्सियतों के बारे में पढ़कर उनके बारे में जान सकें।

अभिषेक बच्चन ने पुस्तकों काे उपहार में देते हुए जेल प्रशासन के अधिकारियों से कहा कि फिल्म का उद्देश्य भी बंदियों को शिक्षा से जोड़ना है। जिससे कि बंदी अपने जीवन में सुधार ला सकें। सेंट्रल जेल में पिछले वर्ष फरवरी और मार्च में फिल्म दसवीं की शूटिंग हुई थी। जिसमें अभिषेक बच्चन, यामी गौतम और निमरत कौर प्रमुख भूमिका में हैं। फिल्म में अभिषेक बच्चन ने जाट नेता गंगाराम चौधरी का रोल किया है। निमरत कौर ने उनकी पत्नी और यामी ने कड़क जेल अधिकारी की भूमिका निभाई है। जेल अधिकारी ज्योति द्वारा ताना मारने पर दबंग नेता गंगाराम चौधरी दसवीं करने की ठानते हैं। इस दौरान उन्हें क्या-क्या दिक्कतें आती हैं। वह इनसे कैसे पार पाते हैं। किस तरह से दसवीं पास करते हैं, ये सब फिल्म को रोचक बनाते हैं।

अभिषेक बच्चन ने शूटिंग के बाद बंदियों से उसकी स्क्रीनिंग सेंट्रल जेल में रखने का वादा किया था। जिसे मंगलवार को उन्होंने निभाया। वह यामी और निमरत समेत यूनिट के सभी सदस्यों के साथ सेंट्रल जेल पहुंचे। बंदियों को अपनी फिल्म की स्क्रीनिंग दिखाई। अभिषेक के अभिनय को बंदियों द्वारा खूब पंसद किया गया। उन्होंने दसवीं को पास कर दिया है, जो कि सात अप्रैल को ओटीटी पर रिलीज हो रही है।

उपहार में दी गईं प्रमुख पुस्तकें

टालस्टाय की श्रेष्ठ कहानियां, चंद्रगुप्त मौर्य, रविंद्रनाथ टैगोर गीतांजलि, लोक व्यवहार, इंदिरा गांधी, विक्रम वेताल, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, बुद्धिवर्धक कहानियां, मंगल पांडेय, सरोजनी नायडू, ज्ञान सुधा सागर, अपना भाग्य कैसे बनाएं, पर्सनेलिटी डेवलपमेंट कोर्स, भारत के महान वैज्ञानिक, हरिवंश पुराण, अग्नि पुराण, श्री वराह मिहिर, योग वशिष्ठ, प्रेरक बाल कहानियां, बकिंमचंद-देव चौधरानी, भर्तहरि शतक, दास्तान ऐ हातिमताई, हिताेपदेश, मालिश रोग उपचार, शिक्षाप्रद प्रेरक कहानियां, छत्रपति शिवाजी, अबकर बीरबल, डाक्टर भीमराव आंबेडकर, झांसी रानी लक्ष्मीबाई, सम्राट अशोक, यादगार कहानियां, महान कवि बुल्लेशाह, फतेहपुर सीकरी एक हिंदू नगर आदि।

अभिषेक बच्चन, यामी गौतम और निमरत कौर समेत फिल्म दसवीं की यूनिट ने केंद्रीय कारागार पुस्तकालय को 350 पुस्तकें उपहार में दी हैं। जिसका उद्देश्य बंदियों को शिक्षा से जोड़कर उनके जीवन में सुधार लाना है।