युद्ध को लेकर फ्रांसीसी राष्ट्रपति मैक्रों और जर्मन चांसलर स्कोल्‍ज ने पुतिन से बात की

 

फ्रांसीसी राष्ट्रपति मैक्रों, जर्मन चांसलर पुतिन। फोटो-एएफपी

यूक्रेन में युद्ध पर फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों और जर्मन चांसलर ओलाफ स्कोल्ज ने रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के साथ बातचीत शुरू की है फ्रांसीसी राष्ट्रपति ने शनिवार को कहा। मैक्रों ने शुक्रवार को कहा था कि वह और स्कोल्ज पुतिन के साथ एक नई बातचीत करेंगे।

 पेरिस, रायटर। यूक्रेन में युद्ध पर फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों और जर्मन चांसलर ओलाफ स्कोल्ज ने रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के साथ बातचीत शुरू की है, फ्रांसीसी राष्ट्रपति ने शनिवार को कहा। मैक्रों ने शुक्रवार को यूरोपीय संघ के शिखर सम्मेलन में कहा था कि वह और स्कोल्ज गुरुवार को पिछले तीन-तरफा आदान-प्रदान के बाद आने वाले घंटों में पुतिन के साथ एक नई बातचीत करेंगे। इससे पहले फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों और रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन तीन बार बातचीत कर चुके हैं।

यूक्रेन के शहरों पर बम के गोले बरसा रहा रूस

यूक्रेन के निपरो में रूसी हवाई हमले के बाद छोटे बच्चे के स्कूल और एक रिहायशी इमारत में आग लग गई। इस हमले में एक शख्स की दर्दनाक मौत हो गई। यूक्रेन के मारियुपोल में अस्पताल पर हमला किया गया है, इसमें तीन लोगों की जान चली गई है। हमले के बाद अस्पताल की इमारत पूरी तरह से तबाह हो गई। हर तरफ अफरा तफरी का माहौल कायम है। मारियुपोल में ही रूसी हमले के बाद कई जगह पर लोग मलबे में दब गए हैं। युद्ध के बीच संकटग्रस्त देश में आम लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। खाने पीने की चीजों के लिए लोग तरस रहे हैं। पीने के पानी तक के लिए लोग परेशानी के दौर से गुजर रहे हैं।

25 लाख लोग यूक्रेन छोड़ने के लिए मजबूर

उधर, भीषण बमबारी के बीच यूक्रेन के लोगों में डर का माहौल बना हुआ है। भारी संख्या में वहां से लोगों का पलायन जारी है। संयुक्त राष्ट्र संघ ने दावा किया है कि जंग के चलते 25 लाख लोग यूक्रेन छोड़ने के लिए मजबूर हुए हैं। यूक्रेन के राष्ट्रपति जेलेंस्की ने मारियुपोल में सुरक्षित कारिडोर पर रूस द्वारा हमला करने का आरोप लगाया था। शुक्रवार को राष्ट्रपति जेलेंस्की ने रूस के केमिकल हथियार बनाने के आरोपों पर जवाब देते हुए कहा था कि हमने कोई केमिकल हथियार नहीं बनाए हैं और रूस की तरफ से ऐसा किया जाता है तो उन्हें और अधिक प्रतिबंधों के लिए तैयार रहना चाहिए।