उत्तर प्रदेश में बढ़ा 'बुलडोजर बाबा' का क्रेज, वाराणसी में युवा बनवा रहे बुलडोजर का टैटू

 

Craze Of Bulldozer Baba Tattoo : 'बुलडोजर' वाले टैटू की धूम

Tattoo Of Bulldozer Baba उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव के दौरान प्रदेश में कई जिलों में सीएम योगी आदित्यनाथ की जनसभाओं में लोगों ने बुलडोजर भी खड़ा किया था। बुलडोजर को लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के पास बड़ी जानकारी है।

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव में प्रचार के दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का चुनावी रैली तथा रोड शो में बुलडोजर का दोहरा लाभ बताया काफी कारगर रहा। भाजपा को चुनाव में प्रचंड बहुमत मिलने के बाद से सीएम योगी आदित्यनाथ बुलडोजर बाबा के नाम से भी विख्यात हो गए हैं।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का बुलडोजर युवाओं को अपनी ओर खींच रहा है और वह लोग बुलडोजर का वाला टैटू बनवा रहे हैं। पीएम नरेन्द्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणमी में तो इन दिनों 'बुलडोजर' वाले टैटू की धूम मची है। सीएम योगी आदित्यनाथ अब तो बुलडोजर बाबा के नाम हिट हैं। वाराणसी में सीएम योगी आदित्यनाथ को उनके समर्थकों ने 'बुलडोजर बाबा का नाम दे दिया है।

भारतीय जनता पार्टी के लगातार दूसरी बार सत्ता में आने के बाद वाराणसी में 'बुलडोजर' वाले टैटू की धूम मची है। वाराणसी में भाजपा के सभी नौ विधानसभा क्षेत्र में जीत बाद यहां के लोगों में बुलडोजर बाबा का क्रेज काफी बढ़ गया है। यहां पर लोग अब अपने हाथ में 'बुलडोजर का टैटू बनवा रहे हैं। उसके नीचे बुलडोजर बाबा भी लिखवाया जा रहा है।

प्रदेश में योगी आदित्यनाथ सरकार के दोबारा सत्ता में आने से भाजपा समर्थकों में खासा उत्साह है। चुनाव प्रचार अभियान के दौरान सपा प्रमुख ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर कई व्यक्तिगत हमले किए। सीएम योगी आदित्यनाथ की नीतियों की कड़ी आलोचना करते हुए अखिलेश यादव ने अनेकों बार उन पर कई तीखी टिप्पणियां की। अखिलेश यादव ने कानून-व्यवस्था को सुधारने की दिशा में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की बुलडोजर वाली नीति  पर भी आपत्ति जताते हुए उसे चुनावी मुद्दा बना कर भुनाने की बहुत कोशिश की लेकिन जनता को कुछ और ही मंजूर था।पा प्रमुख के अखिलेश यादव के सीएम योगी आदित्यनाथ पर हर वार और तंज का जवाब जनता ने बखूबी दिया। सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर भले ही कितने भी व्यक्तिगत हमले क्यों ना किये, चाहें वह बुलडोजर को लेकर हो या सीएम योगी के परिवार को लेकर, जनता ने इन सभी प्रपंचों को सिरे से नकार कर यह सिद्ध कर दिया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के लिए प्रदेश की पूरी जनता ही परिवार है।