Credit Card से कैश विड्राल चाहते हैं तो जानिए कितना भरना पड़ेगा ब्‍याज

 

क्रेडिट कार्ड से खरीदारी करने में होशियारी बरतनी चाहिए। (Pti)

Credit Card Cash news Credit Card से खरीदारी तो ठीक है लेकिन उससे नकद निकालना आफत भरा हो सकता है। क्‍योंकि जब तक आप पाई-पाई नहीं भर देंगे तब तक ब्‍याज के जंजाल में फंसे रहेंगे ।

नई दिल्‍ली। क्रेडिट कार्ड उन चुनिंदा फाइनेंशियल इंस्ट्रुमेंट्स में से एक है, जिससे किसी भी व्यक्ति के हाथ में तुरंत लिक्विडिटी आ जाती है। हालांकि, आपको बेहद सोच-समझकर इसका इस्तेमाल करना चाहिए क्योंकि ये फाइनेंस का असुरक्षित माध्यम है। हालांकि, कई लोगों को लगता है कि इमरजेंसी में इसका इस्तेमाल किया जाना चाहिए, तो कहा जा सकता है कि ऐसी बात भी नहीं है।

क्रेडिट कार्ड से एक तरफ आपको वित्तीय आजादी मिलती है, तो दूसरी तरफ कैश की तुलना में इसका इस्तेमाल काफी सुविधाजनक होता है। यहां हम कुछ ऐसे तरीकों की बात करेंगे, जिसके जरिए आप अपने कार्ड से मैक्सिमम फायदे उठा पाएंगे। 

पूरी क्रेडिट लिमिट को मत कीजिए यूटिलाइज

हर क्रेडिट कार्ड एक खास क्रेडिट लिमिट के साथ आता है। इसका मतलब होता है कि आप अपने क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल उस खास लिमिट तक ही कर सकते हैं। अलग-अलग कार्ड की लिमिट अलग-अलग हो सकती है। हालांकि, पूरे क्रेडिट लिमिट को यूटिलाइज करना जरूरी नहीं होता है। अगर आप लगातार ऐसा करते हैं तो आपके क्रेडिट यूटिलाइजेशन रेशियो (CUR) पर असर पड़ता है।

अगर आपके द्वारा क्रेडिट कार्ड से ली गई उधारी को क्रेडिट लिमिट से डिवाइड कर दिया जाए तो सीयूआर निकल आता है। सीयूआर को 20-30 प्रतिशत के अंदर रखना आपके फायदे में है। आप अपना कार्ड जितना अधिक स्वाइप करेंगे, आपको उतना अधिक पेमेंट करने की जरूरत पड़ेगी। अगर आप बार-बार लिमिट को पार करेंगे तो आपको क्रेडिट हंगरी बॉरोअर माना जाएगा, जो कर्ज ली गई रकम पर जीता है.

समय पर करिए बकाये का भुगतान

हालांकि, यह कोई कहने की बात नहीं लेकिन कई क्रेडिट कार्ड यूजर्स इस बात पर बहुत अधिक ध्यान नहीं देते हैं। यहां ध्यान देने वाली बात यह है कि क्रेडिट कार्ड कंपनी आपको एक खास अवधि तक बिना किसी ब्याज के पैसे इस्तेमाल करने की सहूलियत देती है। इसका मतलब यह है कि आपको बकाया रकम चुकाने के लिए एक तारीख दी जाती है और अगर आप ऐसा करने में असमर्थ रहते हैं तो आपसे काफी ज्यादा रेट पर ब्याज वसूला जाता है। इसके साथ ही अगर आप समय पर पेमेंट नहीं करते हैं तो आपके क्रेडिट स्कोर पर काफी अधिक असर देखने को मिलता है।

कुछ लोग जुर्माने से बचने के लिए केवल मिनिमम अमाउंट का भुगतान करते हैं। यह अच्छी चीज नहीं होती है क्योंकि आपकी बकाया रकम समय के साथ लगातार बढ़ रही होती है और उसका भुगतान एक समय के बाद काफी चैलेंजिंग काम हो सकता है। इस पर लगने वाला ब्याज आपकी परेशानियों को बढ़ा सकता है।

रिवार्ड प्वाइंट्स को समझिए

हर क्रेडिट कार्ड से खरीददारी करने पर आपको रिवार्ड प्वाइंट्स मिलते हैं। इन प्वाइंट्स को बाद में गिफ्ट वाउचर या कैश रिवॉर्ड के रूप में रिडीम किया जा सकता है। रिवार्ड प्वाइंट्स का समझदारी भरा इस्तेमाल क्रेडिट कार्ड के सही इस्तेमाल के लिहाज से काफी अहम है। आपको यह सुनिश्चित करना चाहिए कि आप इस तरीके से शॉपिंग करें कि आपको आपके रिवार्ड प्वाइंट्स से बेस्ट डील मिल जाए।

पैसे निकालने के लिए मत करिए क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल

क्रेडिट कार्ड स्वैप कर एटीएम से पैसे निकालना डेबिट कार्ड से पैसे निकालने की तुलना में काफी अलग होता है। ऐसा करने पर आपको इंटरेस्ट फ्री पीरियड नहीं मिलता है बल्कि जैसे ही आप पैसे निकालते हैं, उसी पल से ब्याज लगना शुरू हो जाता है। इतना ही नहीं बल्कि आपको हर निकासी के लिए एक कॉस्ट भी भरनी पड़ती है।

कार्ड डिटेल्स रखिए सुरक्षित

अपने कार्ड से जुड़े कॉन्फिडेंशियल डिटेल्स को सुरक्षित रखिए। अपने PIN, सीवीवी नंबर, एक्सपायरी डेट और अन्य डिटेल्स को सेक्योर रखिए ताकि किसी फ्रॉड की नजर उनपर ना पड़े। इन डिटेल्स को कभी किसी भी परिस्थिति में किसी के साथ शेयर मत कीजिए और डेजिगनेटेड पीओएस मशीन पर ही इन्हें स्वाइप कीजिए। असुरक्षित मशीन पर स्वाइप करने से आपकी सारी गोपनीय जानकारी लीक हो सकती है।

क्‍या करें आखिर

इन बातों को ध्यान में रखकर आप अपने क्रेडिट कार्ड का सही तरीके से पूरा इस्तेमाल कर पाएंगे और नकदी संकट से बेहतर तरीके से निपट पाएंगे।