भारतीय नागरिकों को लेकर IAF का C-17 विमान लौटा हिंडन एयरबेस;

 

200 भारतीय नागरिकों को लेकर स्पेशल फ्लाइट पहुंची हिंडन एयरबेस

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रूस के हमलों के कारण यूक्रेन में बरकरार संकट को देखते हुए वहां से अपने नागरिकों की सुरक्षित निकासी में भारतीय वायु सेना को भी सहयोग देने का निर्देश दिया जिसके बाद IAF ने अपने C-17 एयरक्राफ्ट को रवाना किया था।

 गाजियाबाद, एएनआइ।  रूसी हमलों के बीच यूक्रेन में फंसे भारतीय नागरिकों को वतन वापस लाने में भारत सरकार की ओर से पुरजोर कोशिश जारी है। इसे और रफ्तार देते हुए बुधवार सुबह 4 बजे  हिंडन एयरबेस से भारतीय वायुसेना का C-17 विमान रोमानिया के लिए रवाना किया गया था जो गुरुवार तड़के 200 भारतीय नागरिकों को लेकर वापस लौट आया है।  

यूक्रेन से 200 भारतीय नागरिकों को लेकर भारतीय वायुसेना (Indian Air Force, IAF) का C-17 विमान गुरुवार तड़के हिंडन एयरबेस पहुंचा। IAF C-17 विमान बुधवार को रोमानिया की राजधानी बुखारेस्ट से  भारतीय नागरिकों को लेकर निकला था। राज्य रक्षा मंत्री अजय भट्ट (Ajay Bhatt) ने यूक्रेन से अपने देश लौटे नागरिकों का स्वागत किया। यूक्रेन में फंसे भारतीय नागरिकों के लिए केंद्र द्वारा शुरू किए गए आपरेशन गंगा के तहत अब तक कुल 17 हजार नागरिकों को वापस लाया जा चुका है।

वायुसेना के C-17 एयरक्राफ्ट में एक साथ 300 से 400 लोगों को लाया जा सकता है। पिछले साल अफगानिस्तान में तालिबान के कब्जे के बाद पैदा हुए हालात में वहां से भारतीय नागरिकों के अलावा अफगानी हिंदुओं और सिखों को भारत लाने के लिए भी वायुसेना ने विशेष अभियान चलाया था। इसमें भी वायुसेना ने अपने C-17 विमानों को लगाया था।

बता दें कि रूस के सैन्य कार्रवाई के दौरान खार्किव में कर्नाटक के 22 साल के छात्र नवीन एसजी की मौत हो गई।

आपरेशन गंगा मिशन है जारी 

26 फरवरी को भारत ने यूक्रेन में  फंसे अपने नागरिकों के सुरक्षित देश वापसी के लिए 'आपरेशन गंगा मिशन' की घोषणा की। 27 फरवरी को विदेश मंत्रालय ने 'आपरेशन गंगा' के लिए विशेष रूप से नया ट्विटर हैंडल बनाया। ट्विटर हैंडल अकाउंट को माइक्रोब्लागिंग साइट द्वारा पहले ही सत्यापित किया जा चुका है।

वतन वापस आ चुके दो हजार से अधिक भारतीय 

भारत सरकार द्वारा चलाए गए आपरेशन गंगा के तहत 8 मार्च तक 46 उड़ानें निर्धारित की गई हैं। विदेश मंत्रालय ने कहा है कि नियोजित उड़ानों में से 29 बुखारेस्ट से, 10 बुडापेस्ट से, छह रेजजो से और एक कोसिसे से है। अब तक एयर इंडिया, इंडिगो और स्पाइस की 9 विशेष उड़ानें 2,012 से अधिक भारतीय नागरिकों को स्वदेश वापस ला चुकी हैं।