भारतीय, श्रीलंकाई नौसेनाओं ने द्विपक्षीय समुद्री अभ्यास SLINEX का हुआ समापन

 

विशाखापत्तनम के नौसेना डाकयार्ड और बंगाल की खाड़ी में आयोजित

भारत-श्रीलंका नौसेना के द्विपक्षीय समुद्री अभ्यास का हार्बर चरण 7-8 मार्च को विशाखापत्तनम के नेवल डाकयार्ड में आयोजित किया गया था जिसका आज समाप्त हुआ। इस अभ्यास में दोनों देशों की नौसेनाओं के बीच समुद्री सहयोग के लिए सर्वोत्तम प्रथाओं और प्रक्रियाओं के आदान-प्रदान पर ध्यान केंद्रित किया गया।

विशाखापत्तनम, एएनआइ। 7 से 10 मार्च तक, भारतीय और श्रीलंकाई नौसेना के द्विपक्षीय समुद्री अभ्यास Sri Lanka–India Naval Exercise (SLINEX) का नौवां संस्करण विशाखापत्तनम में आयोजित किया जा रहा था, जिसका शनिवार को समापन किया गया।‌ यह संस्करण विशाखापत्तनम के नौसेना डाकयार्ड और बंगाल की खाड़ी में आयोजित हुआ था।

इंडियन नेवी ने ट्वीट कर दी जानकारी

भारतीय नौसेना ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट कर, यह जानकारी देते हुए कहा, 'विशाखापत्तनम में भारत-श्रीलंका द्विपक्षीय समुद्री अभ्यास SLINEX अभ्यास आज समाप्त हुआ। अभ्यास का दायरा और जटिलता इंडियन नेवी और श्रीलंकाई नौसेना के बीच उच्च स्तर के विश्वास, सहयोग और अंतर-संचालन का संकेत है।'

श्रीलंका नेवी रिलीज में बताया

एक आधिकारिक विज्ञप्ति में, श्रीलंका नेवी ने कहा कि श्रीलंका नौसेना का प्रतिनिधित्व करते हुए, SLNS सयूराला ने द्विपक्षीय नौसैनिक अभ्यास में भाग लिया। श्रीलंका नेवी ने आगे कहा, 'SLINEX ' के 09वें संस्करण में हार्बर फेज और सी फेज के रुप में दो चरण शामिल थे। भारतीय नौसेना का प्रतिनिधित्व कार्वेट आईएनएस किर्च, फ्लीट सपोर्ट टैंकर आईएनएस ज्योति, कई हेलीकाप्टर और एक डोर्नियर समुद्री निगरानी विमान द्वारा किया गया था।'

विज्ञप्ति के अनुसार, SLINEX ने अंतर-संचालन को बढ़ाने, आपसी समझ में सुधार लाने और दोनों नौसेनाओं के बीच समुद्री सहयोग के लिए सर्वोत्तम प्रथाओं और प्रक्रियाओं के आदान-प्रदान पर ध्यान केंद्रित किया है, जिससे दोनों देशों के बीच, सुरक्षा दृष्टिकोण सेएक मजबूत संबंध स्थापित हो सके।

विज्ञप्ति में कहा गया है, कि यह अभ्यास का हार्बर चरण 7-8 मार्च को विशाखापत्तनम के नेवल डाकयार्ड में आयोजित किया गया था। इस बीच, हार्बर फेज के तहत सांस्कृतिक, पेशेवर, सामाजिक और खेल का आदान-प्रदान भी हुआ।