Zomato कैसे करेगा 10 मिनट में फूड डिलीवरी वह भी बचत के साथ, जानें पूरी डिटेल

 

Blinkit के साथ फूड डिलीवरी करेगी Zomato। (Pti)

Zomato ने यह भी कहा कि फास्‍ट डिलीवरी में कर्मचारियों पर कोई दबाव नहीं डाला जाएगा। साथ ही यह उन्हें देर से डिलीवरी पर नुकसान भी नहीं होगा। क्‍योंकि 10 मिनट में डिलीवरी के मैनेजमेंट में ट्रैफिक की स्थिति और क्‍लाइमेट भी शामिल है।

नई दिल्‍ली, बिजनेस डेस्‍क। खाने की डिलीवरी जल्‍द ही 10 मिनट में होगी। जी हां, ऑनलाइन फूड डिलीवरी स्टार्टअप Zomato जल्द ही 10 मिनट में खाना पहुंचाना शुरू कर देगा। इसके लिए उसने क्यू-कॉमर्स फर्म (Quick Commerce Firm) ब्लिंकिट (Blinkit) के साथ समझौता किया है। Zomato instant नाम से कंपनी गुरुग्राम में फूड डिलीवरी के मॉडल की टेस्टिंग करने के लिए एक पायलट प्रोजेक्ट चलाएगी।

कंपनी हाई डिमांड वाले ग्राहक को पड़ोस के फिनिशिंग स्टेशनों के नेटवर्क से तत्‍काल फूड डिलीवरी करेगी। गुरुग्राम में शुरुआत में पायलट प्रोजेक्‍ट के तौर पर ऐसे 4 स्टेशन बनेंगे। Zomato के फिनिशिंग स्टेशन Zepto और Blinkit डार्क स्टोर मॉडल के जैसे हैं, जो इन कंपनियों को अपने ऑपरेशन पर फुल कंट्रोल मुहैया कराएंगे। 

कैसे काम करेगा सिस्‍टम

हरेक फिनिशिंग स्टेशन में लगभग 20-30 आइटम होंगे, जिनकी लोकली डिमांड ज्‍यादा है और वे उस इलाके में सबसे ज्‍यादा बिकते हैं। कंपनी ने कहा कि ये गोदाम डिश-लेवल डिमांड प्रेडिक्शन एल्गोरिदम और इन-स्टेशन रोबोटिक्स से भी लैस होंगे। Zomato ने कहा कि वह उम्मीद कर रही है कि यह मॉडल ग्राहक के लिए कीमत को लगभग 50 प्रतिशत तक कम करने में मदद करेगा, जबकि उसके रेस्‍त्रां पार्टनर और डिलीवरी कर्मचारियों की कमाई पर कोई असर नहीं पड़ेगा।

ग्राहकों की बदल रही है मांग

कंपनी के सह-संस्थापक दीपिंदर गोयल ने Tweet में कहा कि Zomato Instant को लॉन्च करने का एक कारण यह है कि Zomato द्वारा 30 मिनट की औसत डिलीवरी का समय बहुत धीमा है और यह बात जल्द ही पुरानी हो जाएगी। अगर हम ऐसा नहीं करते हैं इसे कोई और करेगा। गोयल ने यह भी कहा कि Zomato ऐप पर सबसे तेज डिलीवरी समय वाले रेस्‍त्रां को छांटना सबसे अधिक इस्‍तेमाल की जाने वाली सुविधाओं में से एक होगा। ग्राहक तेजी से अपनी जरूरतों के तत्‍काल जवाब की मांग कर रहे हैं। वे योजना नहीं बनाना चाहते और न ही इंतजार करना चाहते हैं।