तालिबान का दावा- अफगानिस्तान में इस्लामिक स्टेट की आतंकी गतिविधियों पर लगाई रोक

 

तालिबान का दावा- अफगानिस्तान में इस्लामिक स्टेट की हिंसक गतिविधियों पर लगाई रोक

अफगानिस्तान में बीते चार महीनों के दौरान इस्लामिक स्टेट की ओर से किसी तरह की हिंसक गतिविधियों को अंजाम नहीं दिया गया है। यह दावा तालिबान के कार्यवाहक विदेश मंत्री आमिर खान मुत्ताकी (Amir Khan Muttaqi) ने की है।

काबुल, एएनआइ।  तालिबान (Taliban) ने सोमवार को  दावा किया कि इसने अफगानिस्तान में इस्लामिक स्टेट की हिंसक गतिविधियों पर रोक लगा दी। कार्यवाहक विदेश मंत्री आमिर खान मुत्ताकी ने ये दावे चीनी मीडिया के साथ बातचीत के दौरान की। चीनी मीडिया की ओर से जारी रिपोर्ट के अनुसार, मुत्ताकी ने कहा कि हाल के कुछ महीनों के दौरान ISIS ने देश में किसी तरह के हमले नहीं किए। टोलो न्यूज के अनुसार, उन्होंने यह भी कहा कि अफगान किसी अन्य देश के लिए खतरा नहीं होगा।

मुत्ताकी ने कहा, 'बीते चार महीनों के दौरान दाएश ने किसी तरह का हमला नहीं किया है। हम कह सकते हैं कि अब अफगानिस्तान सुरक्षित देश है और दुनिया को किए गए उस वादे के लिए हम प्रतिबद्ध हैं जिसमें यह कहा था कि किसी भी देख के खिलाफ अफगानिस्तान की धरती का इस्तेमाल नहीं किया जाएगा।  अफगान की मौजूदा सरकार के साथ चीन के अच्छे संबंध रहे हैं।

चीनी सरकार द्वारा तालिबान के राजनयिकों को मंजूरी दे दी गई है। हालांकि बीजिंग ने अब तक आधिकारिक तौर पर यह ऐलान नहीं किया है। मुत्ताकी ने अपने हालिया चीन दौरे को रचनात्मक करार दिया। मार्च के अंत में मुत्ताकी के नेतृत्व में तालिबान के एक प्रतिनिधिमंडल ने चीन का दौरा किया था।