संसद में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह बोले- मेरी आवाज थोड़ी ऊंची है लेकिन गुस्सा नहीं होता हूं, हां कश्मीर के सवाल पर...

 

लोकसभा को संबोधित करते हुए अमित शाह (Photo ANI)

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने सोमवार को लोकसभा में कहा कि मुझे गुस्सा नहीं आता है। मेरी आवाज थोड़ी ऊंची है। हां कश्मीर के सवाल पर गुस्‍सा हो जाता हूं। जानें केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने ऐसा क्‍यों कहा...

नई दिल्‍ली, एजेंसियां। सोमवार को लोकसभा में एक ऐसा मौका आया जब सदन के सदस्‍य अपनी हंसी नहीं रोक सके। दरअसल तृणमूल कांग्रेस के एक सदस्य ने गृह मंत्री (Union Home Minister Amit Shah) को संबोधित करते हुए कहा कि जब आप 'दादा' बोलते हैं लगता है कि गुस्‍से में हैं। इस पर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि मुझे गुस्सा नहीं आता है। मेरी आवाज थोड़ी ऊंची है लेकिन कश्मीर के सवाल पर गुस्‍सा हो जाता हूं। शाह ने यह भी कहा कि मैं कभी किसी को डांटता नहीं हूं। आइये जानें क्‍या था पूरा वाकया... केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने सदन में दंड प्रक्रिया (शिनाख्त) विधेयक 2022 को रखते हुए कहा कि सरकार एक माडल कारागार मैनुअल बना रही है। इस पर तृणमूल कांग्रेस के सांसद सौगात राय ने कहा कि इस तरह के किसी मैनुअल का मसौदा उन्होंने नहीं देखा है। इस पर शाह ने कहा कि सरकार इसे अभी तैयार कर रही है। आप सरकार में होते तो जरूर देखते। शाह ने आगे कहा कि 'दादा' ने जो बातें उठाई है उस पर मैं जानकारी देना चाहूंगा।

शाह (Union Home Minister Amit Shah) के इतना कहते ही तृणमूल सांसद सुदीप बंद्योपाध्याय ने शाह से कहा कि आप जब दादा (सौगत राय) बोलते हैं तो डांटकर बोलते हैं। इस पर सदन के सदस्‍य हंस पड़े। इसके जवाब में शाह ने मुस्कराते हुए कहा कि नहीं, नहीं... मैं कभी किसी को नहीं डांटता हूं। ना कभी गुस्‍सा होता हूं। मेरी आवाज जरा ऊंची है। यह मेरा 'मैन्यूफेक्चरिंग डिफेक्ट' है। हां कश्‍मीर का सवाल आता है तो गुस्‍सा आ जाता है, बाकी गुस्‍सा नहीं होता हूं।

सनद रहे कि संसद ने अगस्त 2019 में जम्‍मू-कश्‍मीर से अनुच्छेद-370 को निरस्त करने के लिए एक विधेयक पारित किया था। इस दौरान अमित शाह और कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी (Adhir Ranjan Chowdhury) के बीच तीखी नोकझोंक देखी गई थी। तब अधीर रंजन चौधरी को तल्‍ख लहजे में जवाब देते हुए अमित शाह ने कहा था कि आपको क्या लगता है कि हम क्या कर रहे हैं। हम देश के लिए अपना जीवन भी बलिदान कर देंगे।