कांग्रेस ने सीबीआई और ईडी को बताया 'सरकारी पिट्ठू', सीजेआई से कहा- इन पर लगाएं अंकुश

 

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सुरजेवाला की फाइल फोटो

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सुरजेवाला ने पत्रकारों के सवालों के जवाब देते हुए कहा कि सीबीआ और ईडी को लेकर सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश ने जो टिप्पणी की है उससे वह खुद को भी जोड़ते है ।

ब्यूरो, नई दिल्ली। सीबीआई के काम-काज पर सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश की टिप्पणी के बाद कांग्रेस महासचिव रणदीप सुरजेवाला ने शनिवार को सीबीआई, ईडी और इनकम टैक्स (आईटी) को लेकर तीखा बयान दिया और इन्हें सरकार का 'पिट्ठू' और भाजपा का सहयोगी संगठन बताया है। साथ ही कहा है कि इस तरह की टिप्पणी से कुछ नहीं होने वाला है, बल्कि मुख्य न्यायाधीश व न्यायपालिका को अपनी संवैधानिक शक्तियों का इस्तेमाल करते हुए इन पर अंकुश लगाना चाहिए।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सुरजेवाला ने पत्रकारों के सवालों के जवाब देते हुए कहा कि सीबीआई, ईडी को लेकर सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश ने जो टिप्पणी की है, उससे वह खुद को भी जोड़ते है। उन्होंने कहा मौजूदा समय में जो स्थिति है, उनमें जहां भी चुनाव होते है, वहां मोदी जी बाद में जाते है, उससे पहले सीबीआई, ईडी और आईटी पहुंच जाती है।

बता दें कि सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश एनवी रमना ने शुक्रवार को एक कार्यक्रम में कहा था कि सीबीआई की विश्वसनीयता समय बीतने के साथ सार्वजनिक जांच के दायरे में है, क्योंकि इसके कार्यों व निष्क्रियता ने कई मामलों ने सवाल खड़े किए हैं।

महंगाई को लेकर कांग्रेस ने सरकार को घेरा

कांग्रेस नेता ने इसके साथ ही महंगाई के मुद्दों पर सरकार को घेरा और कहा कि चुनाव खत्म होते ही हर दिन जिस रफ्तार से महंगाई बढ़ रही है, उनमें जनता कड़वा घूट पीने को विवश है। उन्होंने एक आंकडा पेश करते हुए कहा कि महंगाई के चलते जनता पर एक लाख 25 हजार करोड़ से अधिक का बोझ बढ़ गया है।

डीएपी व एनपीके की कीमतों में बढ़ोत्तरी का मुद्दा उठाया। डीएपी की कीमतों में प्रति बैग डेढ सौ रूपए और एनपीके की कीमतों में प्रति बैग 110 रुपए बढ़ोत्तरी होने की जानकारी दी। इसके साथ ही उन्होंने आठ सौ दवाओं की कीमतों में बढ़ोत्तरी का भी जिक्र किया और कहा कि सरकार जनता पर हर तरफ से महंगाई का बोझ डाल रही है।