गाजियाबाद में पुलिस बेखबर, चोरों का आतंक जारी; वैशाली के एक और फ्लैट में चोरी

 

पुलिस अधीक्षक नगर द्वितीय ज्ञानेंद्र सिंह ने बताया कि मामले की छानबीन की जा रही है।

बिजनौर के अकाउंटेंट गौरव यादव यहां वैशाली सेक्टर-तीन में रहते हैं। शनिवार सुबह करीब 10 बजे वह अपने कार्यालय चले गए। शाम करीब चार बजे पीएनजी लाइन का कनेक्शन कराने के लिए फ्लैट पर पहुंचे तो उनका होश उड़ गया।

साहिबाबाद,  संवाददाता। कौशांबी थाना क्षेत्र के वैशाली सेक्टर-तीन में चोरों ने दिनदहाड़े एक और फ्लैट को निशाना बनाया। इस बार अकाउंटेंट के फ्लैट के दरवाजे का ताला तोड़कर चोरी की है। पीड़ित ने अज्ञात चोरों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई। क्षेत्र में बढ़े अपराध को लेकर स्थानीय लोगों ने आक्रोश जताया।

दरवाजे का ताला टूटा था

मूल रूप से बिजनौर के अकाउंटेंट गौरव यादव यहां वैशाली सेक्टर-तीन में रहते हैं। शनिवार सुबह करीब 10 बजे वह अपने कार्यालय चले गए। शाम करीब चार बजे पीएनजी लाइन का कनेक्शन कराने के लिए फ्लैट पर पहुंचे तो उनका होश उड़ गया। दरवाजे का ताला टूटा था। अनहोनी होने की आशंका पर वह आनन-फानन अंदर गए। कमरे में सामान बिखरा था। आलमारी खुली थी। उसमें रखे 40 हजार रुपये और मोबाइल गायब था। उन्होंने पुलिस कंट्रोल रूम में इसकी सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस जांच की खानापूर्ति करके चली गई। उन्होंने वैशाली पुलिस चौकी में शिकायत दी। उसके आधार पर कौशांबी थाने में अज्ञात चोरों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज हुई।

Ads by Jagran.TV

jagran

सेल्स मैनेजर के यहां हुई थी चोरी

गौरव के फ्लैट से करीब सौ मीटर की दूरी पर स्थित निजी कंपनी के सेल्स मैनेजर मुकुल मिश्र के फ्लैट में भी शनिवार को दिनदहाड़े चोरी हुई थी। उन्होंने भी पुलिस से शिकायत की थी। माना जा रहा है कि दोनों वारदात एक ही गिरोह ने की है। हालांकि, पुलिस को अभी चोरों का सुराग नहीं मिला है। पुलिस अधीक्षक नगर द्वितीय ज्ञानेंद्र सिंह ने बताया कि मामले की छानबीन की जा रही है।

पुलिस पर गश्त नहीं करने का आरोप

स्थानीय निवासियों ने कहा कि पुलिस क्षेत्र में गश्त नहीं करती है। इसकी वजह से आए दिन चोरी और लूट हो रही है। वहीं, आरडब्ल्यूए पदाधिकारी कमलेश सिंह ने बताया कि पुलिस से क्षेत्र में गश्त बढ़ाने और पिकेट की कई बार मांग की जा चुकी है, लेकिन कोई सुनवाई नहीं हो रही है। आपराधिक घटनाओं से लोगों में दहशत है।