कमिश्नरी बनने से महिला सुरक्षा को मिलेगा बल, प्रभावी रूप से काम करेगा एंटी रोमियो स्क्वाड

 

Ghaziabad: कमिश्नरी बनने से महिला सुरक्षा को मिलेगा बल, प्रभावी रूप से काम करेगा एंटी रोमिया स्क्वाड

Ghaziabad Police Commissionerate News गाजियाबाद में कमिश्नरी व्यवस्था लागू होने से महिला सुरक्षा को भी बल मिलेगा। गाजियाबाद में वरिष्ठ अधिकारियों के बैठने से महिला सुरक्षा पर प्रभावी योजना बन सकेगी और इस दिशा में बेहतर काम हो सकेगा।

गाजियाबाद । जिले में कमिश्नरी व्यवस्था लागू होने की चर्चाओं को लेकर लोग काफी उत्साहित हैं। लोगों का कहना है कि कमिश्नरी व्यवस्था लागू होने से जिले में अपराध में कमी आएगी और लोग अपने को सुरक्षित महसूस करेंगे। जिले में कमिश्नरी व्यवस्था लागू होने से महिला सुरक्षा को भी बल मिलेगा। गाजियाबाद में वरिष्ठ अधिकारियों के बैठने से महिला सुरक्षा पर प्रभावी योजना बन सकेगी और इस दिशा में बेहतर काम हो सकेगा। जिले में कमिश्नरी व्यवस्था लागू होने के बाद एंटी रोमियो स्क्वाड भी प्रभावी रूप से सक्रिय होगा और महिलाओं की सुरक्षा की तरफ कदम उठाया जाएगा। इसके साथ ही महिला संबंधी अपराधों पर त्वरित कार्रवाई होगी और अपराधी जेल के भीतर होंगे। कमिश्नरी व्यवस्था को लेकर महिलाओं में भी आस जगी है।

पुलिस नहीं टाल सकेगी घटना

कमिश्नरी व्यवस्था लागू होने के बाद महिला संबंधी अपराध को पुलिस टाल नहीं सकेगी। वरिष्ठ अधिकारियों के मौजूद रहने पर पुलिस को अपराध के संबंध में त्वरित कार्रवाई करनी होगी। पुलिस तत्काल मामले में एफआइआर दर्ज कर आरोपित पर कार्रवाई करेगी। कमिश्नरी लागू होने से महिला सुरक्षा के संबंध में यह लाभ मिलने की संभावना है।

महिला पुलिसकर्मियों की होगी अतिरिक्त तैनाती

कमिश्नरी सिस्टम लागू होने के बाद जिले में पुलिस फोर्स तो बढ़ेगा ही साथ ही महिला सुरक्षा के लिए महिला पुलिसकर्मियों के बढ़ने की भी संभावना बनी रहेगी। जिले में वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों की तैनाती के बाद वह शासन में मजबूत पैरवी कर सकेंगे और इसका लाभ जिले के आम लोगों के साथ महिलाओं को मिलना तय है।

वर्तमान में जिले में महिलाएं सुरक्षित नहीं हैं और अपराध बढ़ रहा है। इसे रोकने के लिए पहल होनी चाहिए। पुलिस कमिश्नरी बनने से पुलिस की सक्रियता बढ़ेगी और महिलाओं के साथ होने वाली आपराधिक घटनाओं में कमी आएगी। - देवेंद्री, निवासी विकास नगर

पुलिस कमिश्नरी बनने पर पुलिस के पास अधिकार बढ़ जाएंगे। छोटे-छोटे काम के लिए लोगों को प्रशासनिक अधिकारियों के चक्कर नहीं लगाने पड़ेंगे। जिले में वरिष्ठ अधिकारियों के बैठने पर पुलिसकर्मियों को प्रत्येक गतिविधियों के प्रति जवाबदेही तय होगी। - बबीता, निवासी इंद्रा मार्किट

जिले में पुलिस कमिश्नरी बनने के बाद आपराधिक घटनाओं पर अंकुश लगेगा। इसका सीधा लाभ जनता को मिलेगा। क्षेत्र में पुलिस के सक्रिय होने व गश्त बढ़ने पर लोगों को आए दिन होने वाली लूटपाट और चोरी की वारदात से निजात मिलेगी। - नौशाद सैफी, निवासी अशोक विहार

पुलिस कमिश्नरी बनने के बाद पुलिस के आला अधिकारी दिल्ली व आस पास के जिलों से बेहतर समन्वय स्थापित कर सकेंगे। जिससे क्षेत्र में अपराध करने के बाद दूसरे जिलों में भाग जाने वाले अपराधियों पर काबू पाया जा सकेगा। - विनीत कुमार, निवासी रामेश्वर पार्क