रामविलास के बंगले ने बिहार की सियासत में लगाई आग, चिराग के बाद तेजस्‍वी व मांझी क्‍यों हुए नाराज

 

नेता प्रतिपक्ष तेजस्‍वी यादव और पूर्व सीएम जीतन राम मांझी। फाइल फोटो

दिल्‍ली में पूर्व केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान के बंगले को खाली कराने के बाद अब बिहार की सियासत गर्म हो गई है। मामला एक वायरल वीडियो का है जिसमें बाबा साहेब की मूर्ति और स्‍व पासवान की तस्‍वीरें जमीन पर पड़ी दिख रही है।

पटना, आनलाइन डेस्‍क। नई दिल्‍ली में दिवंगत केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान का बंगला खाली कराने के मामले ने एक नया रूप ले लिया है। चिराग पासवान तो नाराज हैं ही, अब इससे जुड़ा एक वीडियो सामने आने के बाद बिहार के नेता प्रतिपक्ष तेजस्‍वी यादव और पूर्व सीएम जीतन राम मांझी भी गुस्‍से में हैं। इन दोनों एक ही वीडियो को टि्वटर पर शेयर किया है। इसके माध्‍यम से सरकार पर हमला बोला है। पूर्व सीएम ने तो इस दौरान बड़ी बात कह दी। 

बता दें कि बंगला खाली कराने के बाद का एक वीडियो वायरल हुआ है। इसमें बाबा साहब डा. भीम राव आंबेडकर (Dr BR Ambedkar) समेत पूर्व केंद्रीय मंत्री स्‍व रामविलास पासवान (Ramvilas Paswan) की मूर्तियां और तस्‍वीरें सड़क पर पड़ी दिखाई दे रही है। एक तस्‍वीर में स्‍व पासवान के साथ पीएम मोदी भी दिख रहे हैं। पूर्व सीएम ने इसे बाबा साहेब का अपमान करार दिया है। 

केंद्र सरकार से नाराज हैं चिराग पासवान

बता दें कि लोजपा (रामविलास) के अध्‍यक्ष व सांसद चिराग पासवान (Chirag Paswan) ने इसको लेकर केंद्र सरकार पर नाराजगी जताई है। उन्‍होंने कहा कि जिस तरह से बंगला खाली कराया गया, उसपर उन्‍हें आपत्ति है।

(तेजस्‍वी यादव का ट्वीट।)

तेजस्‍वी ने कहा-यह संविधान और दलित वर्ग का अपमान

तेजस्‍वी यादव (Tejashwi Yadav) ने वीडियो शेयर कर ट्वीट किया है। इसमें लिखा है कि ताउम्र वंचितों के हितैषी और पैरोकार रहे रामविलास पासवान जी का दिल्‍ली आवास खाली कराने गई केंद्र सरकार की टीम ने भारत रत्‍न बाबा साहेब आंबेडकर की मूर्ति व पद्म विभूषण पासवान जी की तस्‍वीर को अपमानजनक तरीके से सड़क पर फेंक दिया। संविधान और दलित वर्ग का अपमान किया गया है। 

(पूर्व सीएम जीतन राम मांझी का ट्वीट।)

मांझी बोले-पता नहीं अब तक कितने शहरों में दंगे हो गए होते 

वहीं पूर्व सीएम मांझी (Ex CM Jitan Ram Manjhi) ने इस वीडियो को टि्वटर पर शेयर किया है। उन्‍होंने लिखा है कि हमारे मसीहा बाबा साहब आंबेडकर की जगह यदि किसी भी मजहब के भगवान या धार्मिक पुस्‍तक को यदि सड़कों पर यूं रौंद दिया जाता तो पता नहीं अब तक कितने शहरों में दंगे हो गए होते। उन्‍होंने लोकसभा अध्‍यक्ष, पीएम नरेंद्र मोदी और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से मांग की है कि बाबा साहब की प्रतिमा को अपमानित करने वालों पर कार्रवाई करें।