सिरमौर जिला में पंचायत स्तर पर सिखाए जाएंगे आपदा प्रबंधन के गुर

 

जिला सिरमौर के सभी पंचायतों में आपदा प्रबंधन के गुर सिखाए जाएंगे।

जिला सिरमौर के सभी पंचायतों में आपदा प्रबंधन के गुर सिखाए जाएंगे। यह जानकारी उपायुक्त सिरमौर रामकुमार गौतम ने उपायुक्त कार्यालय के सभागार में राष्ट्रीय आपदा मोचन बल की 14 वीं बटालियन के अधिकारियों के साथ आयोजित बैठक के दौरान दी।

नाहन,  संवाददाता। आगामी दिनों में जिला सिरमौर के सभी पंचायतों में आपदा प्रबंधन के गुर सिखाए जाएंगे। यह जानकारी उपायुक्त सिरमौर रामकुमार गौतम ने उपायुक्त कार्यालय के सभागार में राष्ट्रीय आपदा मोचन बल की 14 वीं बटालियन के अधिकारियों के साथ आयोजित बैठक के दौरान दी। उपायुक्त ने बताया कि राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) जिला सिरमौर मे 18 अप्रैल तक सभी उपमंडल स्तर व स्कूल कालेजों सहित अन्य शिक्षण संस्थानों औद्योगिक शहर कालाअंब व पांवटा साहिब में लोगों को माक ड्रिल के माध्यम से जागरूक करेगी। इसके अतिरिक्त खोज एवं बचाव कार्याे में इस्तेमाल किए जाने वाले आधुनिक उपकरणों जैसेलाइफबोट्स व कंक्रीट कटर, वुड कटर एवं इसके साथ ही तरह-तरह के आधुनिक उपकरणों के बारे में लोगों को जागरूक करेंगे।उपायुक्त ने बताया कि जिला सिरमौर में आपदा से बचने के लिए जिला स्तर व उपमंडल स्तर पर त्वरित प्रतिक्रिया प्रणाली के अंतर्गत टीम गठित की गई है और टीम को समय-समय पर आपदा से बचने बारे में प्रशिक्षण भी दिया जाता है। त्वरित प्रतिक्रिया प्रणाली के अंतर्गत अधिकारियों को अपने कार्य व जिम्मेदारियों के प्रति जानकारी व त्वरित गति से खोज बचाव कार्य करने के लिए प्रशिक्षण दिया जाता है। उन्होंने बताया कि जल्द ही आपदा प्रबंधन की तैयारियों को लेकर जिला स्तरीय बैठक आयोजित की जाएगी। जिसके अंतर्गत सभी विभागों के पास आपदा से निपटने के लिए संससधानों के बारे में जानकारी ली जाएगी। बैठक में पुलिस अधीक्षक सिरमौर ओमापति जमवाल ने एनडीआरएफ के अधिकारियों के साथ जिला में पेश आने वाले विभिन्न आपदाओं के बारे में जानकारी साझा की।

उन्होंने कहा कि आगामी दिनों में किसी बड़े आपदा के दौरान एनडीआरएफ व पुलिस विभाग मिलकर काम करेगी। इसके अतिरिक्त एनडीआरएफ के अधिकारियों को पुलिस की टीमों को प्रशिक्षण देने के बारे में कहां। बैठक में अतिरिक्त उपायुक्त सोनाक्षी सिंह तोमर ने बताया कि जिला सिरमौर में जंगल में लगने वाली आग भूकंप, उद्योगों में केमिकल रिसाव व अन्य आपदाओं से निपटने के लिए सिरमौर में अधिक आपदा सहायता केन्द्र विकसित किए जाएंगे। बैठक में एनडीआरएफ की ओर से सहायक कमांडेंट सागर पाल सिंह ने आगामी 14 दिनों तक जिला सिरमौर में आयोजित किए जाने वाले विभिन्न कार्यक्रमों की जानकारी दी। इसके अतिरिक्त जिला प्रशासन से इन कार्यक्रमों को सामान्य संचालन के लिए सहयोग मांगा और एनडीआरएफ द्वारा आपदा प्रबंधन में किए जा रहे हैं। विभिन्न कार्यों के बारे में जानकारी दी। इस बैठक में जल शक्ति विभाग, लोक निर्माण विभाग व बिजली विभाग के अधिकारियों ने जिला सिरमौर में आपदा प्रबंधन से संबंधित विभागीय गतिविधियों के बारे में अवगत कराया।