ईरान के राष्ट्रपति ने अमेरिका पर लगाया आरोप, कहा- मुस्लिम देशों के प्रति नहीं रखता सहानुभूति

 

ईरान के राष्ट्रपति इब्राहिम रईसी और अमेरिका के प्रेसीडेंट जो बाइडन की फाइल फोटो

ईरान के राष्ट्रपति इब्राहिम रईसी ने स्पष्ट कहा कि विदेशी शक्तियां केवल अपने हितों और दबदबे को देखती हैं। ईरान अपनी एकता संप्रभुता स्वतंत्रता सुरक्षा और क्षेत्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय स्थिति को प्रोत्साहित करने के लिए इराक का समर्थन करता है।

तेहरान, एएनआइ। ईरान के राष्ट्रपति इब्राहिम रईसी ने कहा कि अमेरिका क्षेत्र के मुस्लिम देशों के प्रति कोई सहानुभूति नहीं रखता है। राष्ट्रपति की आधिकारिक वेबसाइट के अनुसार, रईसी ने यह टिप्पणी रविवार को अपने इराकी समकक्ष सालिह के साथ फोन पर बातचीत के दौरान की।

विदेशी शक्तियां केवल अपने हितों और दबदबे को हैं देखती: रईसी

रईसी ने स्पष्ट कहा कि विदेशी शक्तियां केवल अपने हितों और दबदबे को देखती हैं। ईरान अपनी एकता, संप्रभुता, स्वतंत्रता, सुरक्षा और क्षेत्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय स्थिति को प्रोत्साहित करने के लिए इराक का समर्थन करता है। उन्होंने उल्लेख किया कि इराक में असुरक्षा पूरे क्षेत्र के लिए नुकसानदेह है। ईरानी राष्ट्रपति ने अपने इराकी समकक्ष से कहा कि ईरान और इराक के बीच भाईचारा और दोस्ताना रिश्ता दो पड़ोसियों से भी बहुत आगे जाता है।क्षेत्रीय देशों द्वारा बगैर बाहरी हस्तक्षेप के क्षेत्रीय संकट का किया जा सकता है समाधान: इराकी राष्ट्रपति

इराकी राष्ट्रपति ने क्षेत्र में स्थिरता और सुरक्षा को सवोच्च प्राथमिकता पर रखते हुए क्षेत्रीय चुनौतियों से पार पाने के लिए ईरान के साथ द्विपक्षीय रिश्तों को बढ़ाने की जरूरत पर जोर दिया। सालिह ने कहा कि क्षेत्रीय देशों द्वारा बगैर बाहरी हस्तक्षेप के क्षेत्रीय संकट का समाधान किया जा सकता है।