लिंक भेजकर युवती का मोबाइल किया हैक, पैसे नहीं देने पर परिजनों का व्हाट्सऐप ग्रुप बनाकर भेजा अश्लील मैसेज

 

पीड़िता के फोटो के साथ छेड़छाड़ कर उसका फोटो और नंबर इंटरनेट मीडिया पर शेयर कर दिया।

पीड़िता ने जैसे ही उस लिंक को खोला उनका मोबाइल हैक हो गया। उनके मोबाइल में अपने आप कैश एडवांस रुपिया बस शार्पलोन ओके रुपी फैमिली लोन बास्केट लोन फ्लो रुपी कैश नाऊ हैपी बोरोवर मनी लोडर सहित कई एप अपने आप डाउनलोड हो गए।

नई दिल्ली,surender Aggarwal । करावल नगर इलाके में एक युवती के साथ धोखाधड़ी का मामला सामने आया है। ठगों ने युवती को वाट्सएप पर एक लिंक भेजकर उसका मोबाइल हैक कर लिया और लोन के साढ़े तीन लाख रुपये मांगने लगे। जब पीड़िता ने रकम देने से इन्कार कर दिया तो बदमाशों ने उसके मोबाइल के सारे फोन नंबर हासिल कर लिए और पीड़िता के जानकारों का एक वाट्सएप ग्रुप बनाया। उसमें पीड़िता के लिए अश्लील मैसेज भेजने लगे। परेशान होकर पीड़िता ने उत्तर पूर्वी जिले के साइबर सेल थाने में केस दर्ज करवाया।

पुलिस मामले की जांच कर रही है। जानकारी के अनुसार पीड़िता अपने परिवार के साथ करावल नगर में रहती है। वह एक निजी कंपनी में नौकरी करती है। उन्होंने एक बैंक से लोन लिया था, जिसकी अधिकतर किश्त वह भर चुकी हैं। दो महीने पहले एक अनजान नंबर से उनके वाट्सएप पर मैसेज आया कि तुमने लोन लिया था उसकी किश्त जमा कर दो, इसके साथ ही एक लिंक दिया गया था।

पीड़िता ने जैसे ही उस लिंक को खोला उनका मोबाइल हैक हो गया। उनके मोबाइल में अपने आप कैश एडवांस, रुपिया बस, शार्पलोन, ओके रुपी, फैमिली लोन, बास्केट लोन, फ्लो रुपी, कैश नाऊ, हैपी बोरोवर, मनी लोडर सहित कई एप अपने आप डाउनलोड हो गए।पीड़िता को काल और मैसेज करके ठग उनसे 3.64 लाख रुपये मांगने लगे, पीड़िता ने जब रकम देने से इन्कार दिया तो वह उनके परिवार के सदस्यों व जानकारोंं को काॅल करके उनके साथ अभद्रता करने लगे। पीड़िता के बारे में फेसबुक, वाट्सएप सहित अन्य इंटरनेट मीडिया पर अश्लील मैसे डालने लगे। पीड़िता ने बदनामी के डर से उन्हें 85 हजार रुपये दे दिए, लेकिन ठग यही नहीं रूके। पीड़िता के फोटो के साथ छेड़छाड़ करके उसका फोटो और नंबर इंटरनेट मीडिया पर शेयर कर दिया।