राष्ट्रीय लोक अदालत में आज होगा 2 लाख से अधिक वादों का निस्तारण

 

Delhi Traffic Police Lok Adalat: राष्ट्रीय लोक अदालत में आज होगा 2 लाख से अधिक वादों का निस्तारण

राष्ट्रीय लोक अदालत में आपसी सुलह समझौते से दो लाख से अधिक वादों का निस्तारण शनिवार को किया जाएगा। राष्ट्रीय लोक अदालत में दो लाख से अधिक वादों का निस्तारण होना है जिनमें विद्युत बिल से संबंधित वाद सबसे ज्यादा हैं।

नई दिल्ली,  संवाददाता। दिल्ली राज्य विधिक सेवाएं प्राधिकरण (डीएसएलएसए) द्वारा आयोजित राष्ट्रीय लोक अदालत में शनिवार को अन्य मामलों के साथ ही यातायात चालानों का निपटारा होगा। लोक अदालत सुबह 10 से शुरू हो चुकी है और यह शाम साढ़े तीन बजे तक दिल्ली के सभी सात न्यायालय परिसरों में चलेगी।

इसमें वाहन स्वामी को चालान का निस्तारण कराने के लिए 11 मई को डाउनलोड किए गए चालान के पिंट्र आउट को लेकर दिए गए समय पर संबंधित कोर्ट परिसर में जाना होगा। पिंट्र आउट पर दिए गए कोर्ट नंबर के जज के समक्ष प्रस्तुत होना होगा। इसके बाद वाहन मालिक चालान का निस्तारण करा सकेंगे।

दिल्ली पुलिस पहले ही बता चुकी है कि यहां सिर्फ उन्हीं चालानों का निपटारा होगा, जो 31 जनवरी से पहले काटे गए हैं।

बता दें कि सभी सात न्यायालय परिसरों कड़कड़डूमा कोर्ट, पटियाला हाउस कोर्ट, तीस हजारी, रोहिणी, राउज एवेन्यू, साकेत और द्वारका में लोक अदालत की कुल 120 बेंच की व्यवस्था की गई है। प्रत्येक बेंच को 1200 चालानों का निस्तारण करना होगा।

लोक अदालत का समय सुबह 10 से शाम साढ़े तीन बजे तक है। कोरोना संकट के चलते न्यायालय परिसरों में भीड़ इकट्ठी न हो, इसलिए चालानों के डाउनलोड करने और चुने गए समय पर ही न्यायालय परिसर में उपस्थित होने की व्यवस्था की गई है। इससे पहले लगाई गई लोक अदालतों में डेढ़ घंटे में ही निस्तारण के लिए निर्धारित चालानों की संख्या (एक लाख 20 हजार) पूरी हो गई थी।

इस बार निस्तारण के लिए 24 हजार अधिक चालानों की संख्या बढ़ा एक लाख 44 हजार निर्धारित की गई है। यातायात के अलावा, मोटर एक्सीडेंट क्लेम, इंश्योरेंस, चेक बाउंस, लंबित बिजली बिल, राजस्व, श्रम, अपराध सहित अन्य मामलों का भी निस्तारण किया जाएगा।