ई-केवाईसी नहीं कराने वाले क‍िसान होंगे लाभ से बंच‍ित, समस्‍तीपुर में 37 फीसद किसानों के ल‍िए 31 तक का मौका

 

ई-केवाइसी नहीं कराने वाले क‍िसानों की रूक जाएगी अगली क‍िस्‍त। प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर

Samastipur News ई-केवाईसी नहीं होने पर 31 मई के बाद राशि जाना हो जाएगा बंद। समस्‍तीपुर जिले में अब तक एक लाख 46 हजार 378 किसानों ने किसानों ने पोर्टल पर कराया केवाईसी। लापरवाही क‍िसानों के ल‍िए घातक।

समस्तीपुर, सं। प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना अंतर्गत भारत सरकार के स्तर से किसानों को भेजी जाने वाली राशि अब आधार बेस मैप सिस्टम से भेजी जाएगी। वर्तमान में राशि का हस्तानांतरण अकाउंट बेस प्रणाली से भेजी जाती थी। विभागीय आंकड़ों से मिली जानकारी के अनुसार अब तक 63 फीसद किसानों ने ई-केवाईसी कराया है। जबकि 37 फीसद किसानों को ई-केवाईसी कराने के लिए 31 मई तक अंतिम मौका दिया गया है। जिला कृषि पदाधिकारी विकास कुमार ने बताया कि जिले के दो लाख 33 हजार 887 किसानों में से अब तक मात्र एक लाख 46 हजार 378 किसानों के द्वारा भारत सरकार के पोर्टल पर ई-केवाईसी कराया गया है। बताया कि जिले के 87 हजार 509 किसानों ने अबतक भारत सरकार के पोर्टल पर ई-केवाईसी नहीं कराया है। किसानों की पीएम किसान सम्मान निधि बंद नहीं हो, इसके लिए कृषि समन्वयक एवं किसान सलाहकार को निर्देश दिया गया है कि 31 मई तक कामन सर्विस सेंटर पर ई-केवाईसी करवा लेने का आग्रह संबंधित किसानों को करें। यह अंतिम मौका दिया गया है। उक्त तिथि तक के-वाईसी नहीं होने पर बैंक खाता में राशि जाना बंद हो जाएगा।

डीएओ ने कहा कि अगर इन किसानों द्वारा ई-केवाईसी नहीं कराई जाती है तो अगली किस्त की राशि रोक दी जाएगी। बताया कि किसान साइबर कैफे या वसुधा केंद्र से ई-केवाईसी करा सकते है। डीएओ ने बताया कि किसानों की सहायता के लिए सभी कृषि समन्वयक, प्रखंड तकनीकी प्रबंधक, सहायक तकनीकी प्रबंधक व किसान सलाहकारों को आवश्यक निर्देश जारी कर दिया गया है।

87 हजार से अधिक किसानों का लंबित है भुगतान

जिले के 87 हजार 509 किसानों के आवेदन व आधार कार्ड में एक समान नाम नहीं होने के कारण उनका भुगतान लंबित है। ऐसे किसान पीएम किसान पोर्टल से अपने आधार कार्ड के नाम को सुधार करा सकते है। सुधार के उपरांत उनके किस्त का भुगतान उनके खाते में स्वत: होने लगेगा। बताया कि ऐसे किसानों की सूची सभी प्रखंड एवं कृषि समन्वयकों को उपलब्ध कराते हुए निदेशित किया गया है कि अविलंब वैसे किसानों से मिलकर उनके आधार को पोर्टल पर अपडेट करावें।

इन प्रखंडों में किसानों का के-वाईसी लंबित 

प्रखंड लंबित के-वाईसी

विभूतिपुर 4,596

बिथान 6,145

दलस‍िंहसराय 1,798

हसनपुर 6,047

कल्याणपुर 8,474

खाानपुर 5,922

मोहनपुर 1,606

मोहिउद्दीनगर 4,316

मोरवा 5,338

पटोरी 2,182

पूसा 1,986

रोसड़ा 4,231

समस्तीपुर 3,150

सरायरंजन 5,700

शिवाजीनगर 7,466

ङ्क्षसघिया 5,139

ताजपुर 2,159

उजियारपुर 6,030

विद्यापतिनगर 2,281

वारिसनगर 2,943