शराब के शाैकीनों के काम की खबर, अब पीओएस मशीन से होगी शराब, बीयर की दुकानों पर बिक्री

 

एटा जनपद में लागू की जा रही नई आबकारी नीति।

एटा जनपद में लागू की जा रही नई आबकारी नीति। सभी दुकानों पर दी जा रही पीओएस मशीनें। डिस्लरी से दुकान तक पहुंचने वाली शराब पीओएस मशीन से स्कैन होगी। दुकान से बिकने वाली शराब और बीयर भी शौकीन लोगों को इसी मशीन से स्कैन करने के बाद दी जाएगी।

आगरा, एटा जिले में अब शराब और बीयर की दुकानों पर पीओएस मशीन से शराब की बिक्री की जाएगी। इसके लिए सरकार की तरफ से सभी दुकानदारों को मशीन उपलब्ध कराई जा रही हैं। इसी के माध्यम से दुकान पर आने वाली शराब, बीयर और बिक्री होगी। जिसके बाद सभी अधिकारी खरीद परोख्त पर आनलाइन नजर रख सकेगें।

शासन ने आबकारी नीति में बदलाव किया है। जिसमें अब डिस्लरी से दुकान तक पहुंचने वाली शराब पीओएस मशीन से स्कैन होगी। इसके बाद दुकान से बिकने वाली शराब और बीयर भी शौकीन लोगों को इसी मशीन से स्कैन करने के बाद दी जाएगी। इससे सेल्समैन को भी फायदा होगा उसे कागजी लिखापढ़ी करने से काफी निजात मिलेगी। जबकि अधिकारियों को दुकान स्टाक एवं बिक्री और अवशेष जानने के लिए भागदौड़ नहीं करनी होगी। मशीन से शराब स्कैन होने के बाद अधिकारी अपने कार्यालय में पोर्टल खोलकर पूरी जानकार कर सकेगें। इसे लेकर शराब और बीयर की खरीद परोख्त में हेराफेरी नहीं हो सकेगी। जिला आबकारी अधिकारी अभय गंगवार ने बताया कि इस नई प्रक्रिया से सभी दुकानदारों को अवगत करा दिया गया है। जल्द ही इन मशीनों के माध्यम से शराब, बीयर की बिक्री करानी सुनिश्चि कराई जाएगी।

मशीन टूटने पर देनी होगी धनराशि

शराब और बीयर की दुकानों पर सरकार इस समय निशुल्क मशीन मुहैया करा रही है। इसके लिए दुकानदारों से शपथ पत्र लिया जा रहा है। मशीन के खोने और टूटने पर दुकान मालिक को सरकारी कोष में 32 हजार रुपये जमा करने होगें। इसके बाद उसे नई मशीन उपलब्ध कराई जाएगी। बिना मशीन के शराब और बीयर बिक्री अवैध मानी जाएगी।

सरकार ने आबकारी नीति बदलते हुए शराब और बीयर की दुकानों पर ही पीओएस मशीन की अनिवार्यता की है। जबकि भांग की दुकानों पर इन मशीनों को नहीं रखा है। इस तरह से भांग की दुकानों पर पिछले समय की भांति ही बिक्री की जाएगी।