तुम्हारी हैसियत क्या.., कर चालान..., नेता की बदसलूकी पर फूटकर रोया ट्रैफिक सिपाही, सपा ने वायरल वीडियो ट्वीट करके भाजपा पर बोला हमला

 

उन्नाव में ट्रैफिक सिपाही का वीडियो वायरल।

उन्नाव सदर के गांधी नगर में चौराहे पर ड्यूटी कर रहे ट्रैफिक सिपाही ने बीच जाम का कारण बन रही बीच सड़क खड़ी कार की फोटो खींच ली तो नेता ने सरेराह अभद्रता की जिससे आहत सिपाही कोतवाली में फूट फूटकर रोया।

उन्नाव, संवाददाता। शहर में दो वीडियो तेजी से वायरल हो रहे हैं, पहले में ट्रैफिक सिपाही से एक नेता कह रहा है, तुम्हारी हैसियत क्या है.., बाप ने पैदा किया हो तो कर चालान..., वही दूसरा वीडियो थाने के अंदर का प्रतीत हो रहा है जिसमें नेता की बदसलूकी से आहत सिपाही फूट फूटकर रो रहा है। नेता खुद को सत्ताधारी दल के विधायक का रिश्तेदार बता पुलिस कर्मियों पर रौब गांठ रहा है। हालांकि वायरल वीडियो संज्ञान में आने के बाद अफसरों के निर्देश पर तीन लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है, वहीं समाजवादी पार्टी ने भी ट्वीट करके भाजपा पर हमला बोला है।

क्या है मामला : उन्नाव सदर क्षेत्र के गांधी नगर तिराहा पर तैनात यातायात सिपाही माधव मंगलवार देर शाम ड्यूटी पर था। इस बीच हूटर लगी एक कार आकर रुकी और उससे उतरे लोग दुकान पर फल खरीदने लगे। बीच सड़क कार खड़ी होने से जाम लग गया और जिला अस्पताल जा रही एंबुलेंस भी फंस गई। ट्रैफिक सिपाही ने कार हटाने को कहा तो लोग बहस करने लगे। सिपाही ने कार के नंबर प्लेट की फोटो खींच ली तो वे गालीगलौज करने लगे। वे खुद को सत्ताधारी दल के विधायक का रिश्तेदार बताते हुए सिपाही से चालान करने का भय जताते रहे।

वायरल वीडियो-1 : घटनाक्रम को लेकर एक वीडियाे भी वायरल हो रहा है, हालांकि जागरण डॉट काम वीडियो की पुष्टि नहीं करता है। वायरल वीडियो में सिपाही पर अंगुली दिखाते हुए खुद को नेता बताने वाला व्यक्ति कह रहा है- वो कह रहा चालान करेंगे हमारी ड्यूटी है, तुम्हारी हैसियत क्या है.., बाप ने पैदा किया हो तो कर चालान, अभद्र भाषा का प्रयोग करते हुए कहा कर चालान..। चालान कर मैं तुझे चल कोतवाली में बंद कराता हूं, नहीं तो डीएम से बात करता हूं। सिपाही- मैंने चालान नहीं किया है..भाई साहब। नेता- तुम चलो कोतवाली...।

वायरल वीडियो-2 : इसके बाद एक और वीडियो वायरल हुआ है, जो कोतवाली कक्ष का लग रहा है। इसमें कक्ष में खड़ा ट्रैफिक सिपाही फूट फूटकर रो रहा है और कह रहा कि मुझे गालियां देकर बेइज्ज्त किया है। कुर्सी में कुछ नेता और पुलिस अफसर बैठे हैं। पुलिस अफसर कह रहे एक बार दोपहर में चौराहे पर खड़े होकर देख लें हमारी स्थिति तो दूसरी ओर से भी कहा जा रहा है कि मैं समझ रहा हूं इनकी स्थिति, यह सही कि ये लोग दोपहर में खड़े रहते हैं। इसपर एक पुलिस अफसर ने सवाल किया कि क्या आपको गाड़ी में हूटर लगाकर चलने का अधिकार है क्या तो नेता की ओर से जवाब नहीं में दिया जाता है। इसपर पुलिस अफसर कह रहे हैं कि तो इसी पर अगर वो चालान कर रहा है तो क्या बात है। दूसरी ओर से जवाब में कहा कि इस पर चालान नहीं कर रहा.. बात ताे बस इतनी थी। आप मेरी बात सुनेंगे तो सहमत हो जाएंगे।

समाजवादी पार्टी ने किया ट्वीट : वायरल वीडियो पर समाजवादी पार्टी अब भाजपा पर हमला बोला है। पार्टी के ऑफिशियल ट्विटर अकाउंट से ट्वीट करके भाजपा और योगी सरकार पर निशाना साधा है। ट्विटर अकाउंट पर वीडियो पोस्ट करने के साथ लिखा- बीच सड़क पर भीड़ के बीच अपनी इज्जत और वर्दी की इज्जत गंवा चुका ये पुलिसवाला थाने में फूट-फूट कर रोने लगा, योगी जी! आपका बुलडोजर इन गुंडे, मवाली, लफंगे और दबंग भाजपाइयों पर कब चलेगा, जो आपके राज में कानून को जूते की नोक पर ठोकर मारते आवारा सांड की भांति सत्ता के नशे में चल रहे हैं।

तीन पर नामजद मुकदमा : कोतवाली में भाजपा नेताओं के पहुंचने पर सीओ सिटी आशुतोष भी पहुंच गए थे। उन्होंने बताया कि दोनों पक्ष की बात सुनी देर रात सिपाही की तहरीर पर रज्जन मिश्र, संदीप पांडेय व पंकज दीक्षित समेत तीन-चार अज्ञात के खिलाफ सरकारी कार्य में बाधा डालना, अभद्रता और गाली गलौज का मुकदमा दर्ज किया गया है।