दिल्ली की टीम के लिए प्लेआफ में पहुंचने का मौका, जानिए क्या करने की जरूरत

 

दिल्ली कैपिटल्स की टीम के खिलाड़ी (फोटो ट्विटर पेज)

गुजरात की टीम पहले ही प्लेआफ में जगह बना चुकी है जबकि मुंबई और चेन्नई रेस से बाहर है। मतलब 7 टीमों के बीच मची है अंतिम तीन जगह को पाने की होड़। दिल्ली कैपिटल्स की टीम भी इस रेस में शामिल है और मजबूत दावेदार भी।

नई दिल्ली, आनलाइन डेस्क। इंडियन प्रीमियर लीग के 15वें सीजन में अब प्लेआफ की रेस काफी रोचक हो चुकी है। गुजरात की टीम पहले ही प्लेआफ में जगह बना चुकी है जबकि मुंबई और चेन्नई रेस से बाहर है। मतलब 7 टीमों के बीच मची है अंतिम तीन जगह को पाने की होड़। दिल्ली कैपिटल्स की टीम भी इस रेस में शामिल है और मजबूत दावेदार भी। टीम को आज शाम पंजाब के खिलाफ खेलना है जिसका नाम भी प्लेआफ में जगह बनाने वाली टीमों की लिस्ट में शामिल है।दिल्ली की टीम का प्रदर्शन इस सीजन दिखने वालों को वैसा खास नजर नहीं आता लेकिन टीम ने उतना खराब नहीं किया है। बात बस इतनी सी है कि उसके हिस्सा में लगातार जीत नहीं है लेकिन टीम ने अब तक 12 में 6 में जीत हासिल की है यानी 50 फीसदी जीत। अब अगले बचे हुए दो मुकाबलों में टीम को इस सीजन का सबसे बेहतरीन खेल दिखाना होगा क्योंकि दिल्ली ने लगातार दो मैच में इस सीजन एक बार भी जीत दर्ज नहीं की है।

दिल्ली कैसे पहुंचेगी प्लेआफ में

प्लेआफ में पहुंचने के लिए दिल्ली की टीम के सामने बेहद आसान फार्मूला है। टीम को अगले बचे दोनों मुकाबले जीतने होंगे जिससे कि वह 16 अंकों तक पहुंच जाए। आज शाम टीम पंजाब के साथ खेलेगी जिसके पास भी 16 अंकों तक पहुंचने का मौका होगा। वैसे दोनों में से कोई एक ही टीम इसमें कामयाब होगी। दिल्ली के सामने लक्ष्य है कि वह आज का मुकाबला जीते और 16 अंकों तक पहुंचने वाली टीमों से नेट रन रेट के आधार पर बाजी मारे।

बैंगलोर ही एक ऐसी टीम है जो 16 अंकों तक पहुंचने में कामयाब हो सकती है और दिल्ली को टक्कर देगी। अगर लखनऊ की टीम अपना अगला मुकाबला हार जाती है तो वह भी 16 अंकों पर रह जाएगी ऐसे में बेहतर रन रेट लेकर दिल्ली तीसरे स्थान पर पहुंच सकती है लेकिन इसके लिए उसे पंजाब और मुंबई के खिलाफ मुकाबला जीतना होगा।

आज हारी फिर भी होगा पहुंचने का मौका

अगर जो दिल्ली की टीम को पंजाब के खिलाफ हार मिलती है फिर भी समीकरण फिट बैठे तो टीम आगे बढ़ सकती है। इसके लिए दिल्ली की टीम को हर हाल में अगला मुकाबला जीतना होगा और दुआ करनी होगी कि गुजरात की टीम बैंगलोर को हरा दे जिससे वह भी 14 अंकों पर रह जाए। वहीं पंजाब को टीम की हैदराबाद के खिलाफ हार की दुआ करनी होगी। वहीं कोलकाता के भी 14 अंक हो सकते हैं लेकिन अच्छी बात यह है कि नेट रन रेट में दिल्ली इन सभी 14 अंकों तक पहुंचने वाली टीम से बेहतर है तो वह प्लेआफ में जगह बना सकती है।