फ‍िर डराने लगा कोरोना, महाराष्‍ट्र में 1,134 नए केस, केंद्र ने राज्‍यों को किया सचेत

 

महाराष्‍ट्र में कोरोना के बढ़ते मामलों ने चिंता बढ़ा दी है।

महाराष्‍ट्र में कोरोना के बढ़ते मामलों ने चिंता बढ़ा दी है। राज्‍य में शुक्रवार को कोरोना के 1134 नए केस दर्ज किए गए जो 24 फरवरी के बाद से मामलों में सबसे अधिक दैनिक बढोतरी है। केंद्र सरकार ने राज्‍यों को सचेत किया है।

नई दिल्‍ली, एजेंसियां। महाराष्‍ट्र में कोरोना के बढ़ते मामलों ने चिंता बढ़ा दी है। राज्‍य में शुक्रवार को कोरोना के 1,134 नए केस दर्ज किए गए, जो 24 फरवरी के बाद से मामलों में सबसे अधिक दैनिक बढोतरी है। इसके साथ ही बीते 24 घंटे में तीन लोगों की संक्रमण से मौत हो गई। वहीं राष्‍ट्रीय राजधानी दिल्‍ली में बीते 24 घंटे में कोरोना संक्रमण के 345 मामले दर्ज किए गए हैं। कोरोना संक्रमण में बढ़ोतरी की आशंका को देखते हुए केंद्र सरकार ने राज्‍यों को आगाह किया है।

84 दिन बाद नए मामले चार हजार के पार

देश में कोरोना संक्रमण के मामलों में अचानक उछाल आ गया है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से शुक्रवार सुबह अपडेट किए गए आंकड़ों के अनुसार बीते 24 घंटे में 4,041 नए मामले मिले हैं। 84 दिन बाद एक दिन में चार हजार से ज्यादा मामले पाए गए हैं। राहत की बात यह है कि मौतें नहीं बढ़ी हैं। बीते एक दिन में 10 मौतें हुई हैं, जिनमें से छह मौतें अकेले केरल से हैं। इस दौरान सक्रिय मामलों में 1,668 की वृद्धि दर्ज की गई है।

संक्रमण दर बढ़ी

देश में सक्रिय मामलों की संख्या 21,117 हो गई है जो कुल मामलों का 0.05 प्रतिशत है। दैनिक संक्रमण दर एक प्रतिशत के करीब (0.95 प्रतिशत) पहुंच गया है और साप्ताहिक संक्रमण दर भी 0.73 प्रतिशत हो गया है। मरीजों के उबरने की दर 98.74 प्रतिशत और मृत्युदर 1.22 प्रतिशत पर बरकरार है। कोविन पोर्टल के आंकड़ों के मुताबिक अब तक कोरोना रोधी वैक्सीन की कुल 193.84 करोड़ डोज लगाई जा चुकी हैं। 

केंद्र ने राज्‍यों को किया सचेत 

इस बीच केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने तेलंगाना, महाराष्ट्र, कर्नाटक, केरल और तमिलनाडु को पत्र लिखकर सचेत किया है। केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव ने तेलंगाना के सचिव (स्वास्थ्य), महाराष्ट्र के अतिरिक्त मुख्य सचिव (स्वास्थ्य), कर्नाटक के प्रधान सचिव (स्वास्थ्य), केरल के प्रधान सचिव (स्वास्थ्य) और तमिलनाडु के प्रधान सचिव (स्वास्थ्य) को लिखे पत्र में सख्त निगरानी रखने के निर्देश दिए हैं। साथ ही संक्रमण के प्रसार को नियंत्रित करने के लिए जरूरी कदम उठाने को कहा है।