सेनेगल में वेंकैया नायडू ने भारतवंशियों से कहा- अपनी जड़ों को न भूलें

 


उस देश के नियमों का पालन करें जिसने आपको अवसर दिया (फाइल फोटो)

सेनेगल यात्रा के दौरान नायडू ने कहा कि अपनी उपलब्धियों और सेनेगल के विकास में योगदान के माध्यम से भारतीय प्रवासियों ने भारत के लिए अपार सद्भाव तैयार किया है। नायडू ने वहां भारतीय समुदाय द्वारा आयोजित स्वागत समारोह में नायडू ने भाग लिया।

डकार, एएनआइ: सेनेगल में उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू ने भारतीय मूल के लोगों से कहा कि जिस देश ने आपको अवसर दिया, वहां के कानूनों का पालन करें। साथ ही अपनी जड़ों को भी नहीं भूलें। उपराष्ट्रपति ने भारतीय समुदाय द्वारा आयोजित स्वागत समारोह को संबोधित किया।

समाचार एजेंसी प्रेट्र के अनुसार, नायडू ने कहा कि अपनी उपलब्धियों और सेनेगल के विकास में योगदान के माध्यम से भारतीय प्रवासियों ने भारत के लिए अपार सद्भाव तैयार किया है। उपराष्ट्रपति के आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर शुक्रवार को कार्यक्रम की तस्वीर साझा करते हुए बताया गया है कि भारतीय समुदाय द्वारा आयोजित स्वागत समारोह में नायडू ने भाग लिया।

नायडू की अफ्रीका यात्रा के क्रम में भारत और सेनेगल ने अधिकारियों के लिए वीजा मुक्त यात्रा, युवा मामलों में सहयोग और सांस्कृतिक अदान-प्रदान से संबंधित तीन एमओयू पर हस्ताक्षर किए। डकार में भारतीय दूतावास की वेबसाइट के मुताबिक, सेनेगल में भारतीय समुदाय के करीब 500 सदस्य हैं। उनमें से अधिकांश भारतीय कंपनियों के लिए काम कर रहे हैं। तीन देशों गैबान, सेनेगल और कतर के दौरे पर निकले उपराष्ट्रपति दूसरे चरण में बुधवार को सेनेगल पहुंचे। भारत और सेनेगल इस वर्ष अपने कूटनीतिक रिश्ते की स्थापना की 60वीं वर्षगांठ मना रहे हैं।