तमिलनाडु में लगातार बढ़ रहे कोरोना के मामले, हाई अलर्ट पर स्वास्थ्य विभाग

 

तमिलनाडु में कोरोना के बढ़ते मामलों को लेकर स्वास्थ्य विभाग हाई अलर्ट पर (प्रतीकात्मक तस्वीर)

तमिलनाडु में कोरोना के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। ओमिक्रोन के सब वैरिएंट्स मिलने के बाद स्वास्थ्य विभाग हाई अलर्ट पर है। स्वास्थ्य विभाग का कहना है कि प्रभावित लोग ठीक हैं। उन पर नजर रखी जा रही है।

चेन्नई, आइएएनएस। तमिलनाडु का स्वास्थ्य विभाग राज्य में बढ़ते कोविड-19 मामलों को लेकर हाई अलर्ट पर है। अधिकारियों को सभी जिलों में प्रोटोकाल के लिए दबाव बनाने का निर्देश दिया गया है। राज्य के स्वास्थ्य मंत्री एमए सुब्रमण्यम (MA Subramanian) ने कहा कि तमिलनाडु में भी कोविड के ओमिक्रोन वेरिएंट के BA.4 और BA.5 सब-वेरिएंट मिले हैं। उन्होंने बताया, 'BA.4 चार सैंपल में पाया गया, जबकि BA.5 आठ सैंपल में पाया गया। प्रभावित लोग ठीक हैं और उनकी निगरानी की जा रही है। उनके संपर्कों का पता लगा लिया गया है। उन पर नजर रखी जा रही है। BA.4 और BA.5 ओमिक्रोन सब-वेरिएंट विश्व स्तर पर बढ़ रहे हैं।'

'स्थिति की कर रहे निगरानी'

सुब्रमण्यम ने कहा, 'हम स्थिति की निगरानी कर रहे हैं और जिला कलेक्टरों और जिला स्वास्थ्य अधिकारियों को पहले ही कोविड 19 प्रोटोकाल का सख्ती से पालन करने का निर्देश दे चुके हैं।'

'कोविड प्रोटोकाल का करें पालन'

चेन्नई के एक निजी मेडिकल कॉलेज में वायरोलाजी के प्रोफेसर जी मनोनमणि ने बताया, 'BA.4, BA.5 सब-वेरिएंट बहुत अधिक वायरल नहीं हैं, लेकिन हमें  प्रतीक्षा करनी चाहिए और देखना चाहिए। हमें अपने सुरक्षाकर्मियों को निराश नहीं करना चाहिए और घटनाक्रम पर ठीक से नजर रखनी चाहिए।' उन्होंने कहा कि मामलों को नियंत्रण में लाने के लिए कोविड प्रोटोकाल का पालन करना, जिसमें मास्क पहनना, सोशल डिस्टेंसिंग और हाथों को साफ करना शामिल है, को धार्मिक रूप से बनाए रखना होगा।

स्वास्थ्य मंत्रालय ने राज्य स्वास्थ्य विभाग को लिखा पत्र

गौरतलब है कि केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के सचिव राजेश भूषण ने शनिवार को तमिलनाडु के स्वास्थ्य विभाग के प्रमुख सचिव जे राधाकृष्णन को पत्र लिखा था। इस पत्र में उन्होंने कहा था कि राज्य ने 3 जून, 2022 को समाप्त सप्ताह में 659 नए मामले दर्ज किए, जो देश के नए मामलों का 3.13 प्रतिशत है। भूषण ने राज्य सरकार से निगरानी बढ़ाने और कोविड-19 से निपटने के लिए सख्त उपाय करने के निर्देश दिए थ

े।